जानिए हम Job नौकरी क्यों करते है

जानिए हम Job नौकरी क्यों करते है – दोस्तों आज हम इस post  में देखेंगे की इंसान job या नौकरी क्यों करता है. और क्या नौकरी करना हमारे लिए बहुत जरूरी है. या नहीं तो आज में आपको इस post में यही बताने वाला जो की job क्यों करे. तो मै आपसे पूछता हु, की हमारे लिए job या नौकरी करना जरूरी है, या नहीं तो आप बोलोगे की job करना तो बहुत जरूरी है. और हम अगर पड़े लिखे है. तो हमे job जरूर करना चाहिए.जानिए हम Job नौकरी क्यों करते हैपर कुछ लोग ऐसा नहीं सोचते है. वे सोचते है – की पढ़ने का और job  करने का कोई संबंध नहीं है. और अगर इंसान पढाई करता है. तो सिर्फ job या नौकरी करने के लिए नहीं. उससे इंसान में समझ आती है. हमे जीवन जिनका तरीका क्या है यह पता चलता है और पढ़ाई से हम एक बेहतर इंसान बनते है.

और जीवन में पढ़ाई लिखाई क्यों जरूरी है. वो हमे कई मायनो में इंसान बनाती है. हमे ऐसा नहीं सोचना है. की इंसान ने पढ़ाई करी है, तो उसे job रूपी जेल या बंधन मे बंधना पड़ेगा.

दोस्तों कुछ लोग job करने मे बहुत शर्म महसूस करते है, भलेही वो job  कैसी भी हो चाहे private हो या Government हो उसे करना नहीं चाहते. मगर कई लोगो को कोई job या नौकरी करना बहुत पसंद होता है.

और अगर आप मुझसे पूछे की आपको job करना पसंद है, या नहीं तो मै आपको बताता हु, की मेभी कई सालो से job  कर रहा हु, और रियल मे, मै आपको बताऊ की मुझे job करना बिलकुल भी पसंद नहीं है.

जानिए हम Job नौकरी क्यों करते है”

और मित्रो मुझे क्या ज्यादातर लोग किसी के under में job  करना नहीं चाहते आज के दौर का युवा independent  work  करना चाहता है. वो चाहते है की ना कोई कहने वाला हो और नाही कोई सुनने वाला बस हम अपना काम खुद ही करते रहे.

दोस्तों job या नौकरी क्यों करते है – job  इंसान अपनी जरूरतों अपने परिवार को चलाने के लिए करता है. मगर इंसान job  करते – करते एक गधे की तरह बन जाता है, मतलब पुराने जमाने का कहे तो कोलू के बेल की तरह बन जाता है.

बस उसी के इर्द – गिर्द घूमता रहता है. और ना उससे बाहर निकल पाता ना ही वहा से आगे बढ़ पाता है. बस एक कुए के मेंढ़क की तरह अपनी जिंदगी बना लेता है.

तो मै आपसे पूछता हु, की आप अपने दिल पर हाथ रख कर बताये की क्या आप भी किसी के under में job करना चाहते है. या नहीं तो मै समझता हु, की ज्यादातर लोगो का जवाब ना मेही आएगा की हम job  नहीं करना चाहते.

दोस्तों इंसान केवल मजबूरी वश या अपनी जरूरतों के लिए job  करता है. की हमे कुछ पैसे मिलेंगे तो हम अपनी जरूरते पूरी करेंगे. और इसी लिए हम कोई job कर लेते है. और अगर किसी की कोई मजबूरी या जरूरत नही हो तो कोई भी job  नहीं करना चाहे.

और हम कोई नौकरी करते है – तो समझो पूरी जिंदगी या जबतक हम job  करते है. तबतक हमारी जिंदगी हमारी नहीं होती. हमे कोई और ही चलाते है. और हमे भी उनके हिसाब से चलना है. मतलब हमारी जिंदगी पर हमारा कोई अधिकार नहीं होता.

हमारी जिंदगी का रिमोट हमारे बोस  के हाथो में होता है. और वो जैसा चाहे वैसा  हमे चला सकता है. हमे हमे भी मजबूरन उनके साथ चलना पड़ता है. और रही बात पैसे कमाने की तो दुनिया में पैसे कमाने के बहुत तरिके है.

दोस्तों आप भी अगर कई job  या नौकरी करते है, और आपका उसमे मन नहीं लगता हो और आप उसे छोड़ना भी चाहते है, तो ज्यादा समय बर्बाद किये बिना उसे जरूर छोड़े. और आप बोलोगे की फिर हमारा खर्च का क्या तो आप उसके लिए कुछ और काम शुरू कीजिये कोई अच्छा business  शुरू करे.

इस के लिए आप यह भी पड़ सकते है की 5 छोटे Business कैसे start करे. बस दोस्तों अन्त में आपसे एक यही बात कहना चाहता हु, की हम जिंदगी में आए है, तो हमे किसी बोज को लेकर नहीं जीना है. हमे इस job  रूपी बोज को उतरना है. और जिन्दगी सही मायने में जीना है.

कहते है, रोज मर – मर के जीने से अच्छा है की एक दिन पूरा ही मर जाये उसी तरह अपने कार्यक्षेत्र में रोज कुढ़ने से अच्छा है, वहा से resign देके अपने लिए कोई ऐसा नया काम शुरू करे जिसमे हमारा अच्छे से मन लगे और उसमे हम आगे भी बढ़ सके.

तो दोस्तों आपको यह post “जानिए हम Job नौकरी क्यों करते है” कैसी लगी please हमे जरूर बताये, और मै आशा  करता हु, की आप भी अपने जीवन को एक नई दिशा देंगे और जीवन में कुछ जरूर करके जायेगे आप को ऐसा बनाना है, की लोग आपके यहा काम करने या job करने आए नाकि हम दुसरो के यहा जाये और उसके लिए हमे जीवन मै बहुत कड़ी मेहनत करना पड़ेगी .

और आप इस post  से Related  अपने विचार हमे Comments  के माध्यम से बता सकते है.  हमे आपके Comments  का इंतजार रहेगा.

आप नौकरी संबंधी यह लेख भी पड़े –

 

4 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.