जाने क्या है रंग पंचमी का महत्व

जाने क्या है रंग पंचमी का महत्व – दोस्तों हमारे देश में रंग पंचमी का बहुत महत्व है. और होली के बाद हम रंग पंचमी मनाते  है. और इस दिन रंगो का महत्व होता है. आज में आपको इस post में रंग पंचमी के बारे में जानकारिया बताऊंगा. दोस्तों  आप तो जानते ही होंगे की  रंग पंचमी होली का ही एक रूप है जो देश के कई छेत्रो में चैत्र मास की कृष्ण पंचमी को मनाया जाता है. और मित्रो होली का जश्न कई दिनों तक चलता है. और इसकी तैयारिया होली के दिन यानी फाल्गुन पूर्णिमा के लगभग एक महीने पहले शुरू हो जाती है.जाने क्या है रंग पंचमी का महत्वजो हम लोग फाल्गुन पूर्णिमा के दिन होली दहन करते है. और इसके पश्चात अगले दिन सभी लोग उत्साह में भरकर रंगो से खेलते है. और जैसा की आप जानते है की होली खेकने का यह सिलसिला चैत्र मास की कृष्ण प्रतिपदा से लेकर पंचमी तक यानी रंग पंचमी तक चलता है.

इसलिए इसे रंग पंचमी कहा जाता है. और रंग पंचमी कोंकण छेत्र का खास त्यौहार है महाराष्ट्र में होली को ही रंग पंचमी कहा जाता है, और देश के कई प्रांतो में इसका अलग – अलग महत्व माना जाता है. और मित्रो आपको में बतादू की इस दिन यह मान्यता है की इस दिन जो भी रंग इस्तेमाल किये जाते है जिन्हे एक दूसरे पर लगाया जाता है.

और बच्चे बूढ़े सब मिलकर इस दिन होली खेलते है. साथ ही इसकी मान्यता है की इससे ब्रह्माण्ड में सकारात्मक तरंगो का सहयोग बनता है, व  रंग कणो में देवतावो के स्पर्श की अनुभूति होती है.

जाने क्या है रंग पंचमी का महत्व”

और दोस्तों में आपको मेरे रंग पंचमी के बारे में बताता हु, हम मध्य्प्रदेश के मालवा प्रान्त में रहते है. और मालवा का धार्मिक दृष्टि के बहुत महत्व है.

इस दिन हमारे यहा बहुत धूम – धाम से लोग होली खेलते है. और इस दिन गैर का बड़ा महत्व है सभी इलाके के लोग गैर निकालते है.

और इस दिन शहर और गांव में लोग मिलकर अपनी जान पहचान और दुसरो को भी रंग लगाते है. और बड़े ही प्यार के होली खेलते है.

और दोस्तों हमारे गांव और शहरों में इस दिन लोग जुलुस के साथ निकलते है. और जुलुस गाजे – बाजे के साथ आगे बढ़ता है और लोगो को घरो में जाकर रंग लगाते है और सब लोग जुलुस में शामिल होते रहते है.

पर दोस्तों मेरा तो आप से बस यही कहना है की होली हो या रंग पंचमी हमे अपने शरीर का ध्यान रखना है. मतलब रंग लगाने में हमे बहुत ध्यान रखना है. और जहातक हो सके हमे सूखे रंगो से होली खेलना है.

अपने मित्रो और अपने परिवार वालो के साथ प्रेम और सदभाव के रंगो से होली खेलना है, कहते है होली का रंग लगाने से दुश्मन भी दोस्त बन जाते है, तो हमे रंगपंचमी के रंगो से एक दूसरे के बिच का मनमुटाव मिटाना है, और प्रेम से रंगपंचमी खेलना है.

तो दोस्तों कैसी लगी आपको यह post “जाने क्या है रंग पंचमी का महत्व” हमे जरूर बताये और में आशा करता हु , की आप बड़े ही प्रेम से रंग पंचमी मनाएंगे और लोगो को भी इसके  बारे में सही जानकारी देंगे और अपनी body का ध्यान रखते हुए रंग पंचमी मनाएंगे.

और आप इस post से Related अपने सुझाव हमे Comments के माध्यम से बता सकते है. हमे आपके Comments का इंतजार रहेगा.

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.