Child बच्चो पर अनमोल कथन

Child बच्चो पर अनमोल कथन – दोस्तों  अगर  हम  से  कोई  पूछे  की  आपके  जीवन  का  सबसे  हसीन  दौर  कोनसा  था. वो  कोनसा  समय  था  जब  आपको  कोई  दुःख कोई  टेंशन  नहीं  हुवा  करता  था. तो  आप  बड़े  गर्व  के  साथ  कहेगे  हमारा  बचपन  जब  हम  बच्चे  थे  वो  समय  हमारे  जीवन  का  सबसे  हसीन  था.  न  किसी  से  लेना न  देना  बस  अपनी  मर्जी  के  मालिक  होकर  रहना  कोई  चिल्लाये  भी  सही  तो  थोड़ी  देर  बाद  ही  उसकी  बात  भूल  कर  फिर   वही  काम  करना  यह  होता  है  बचपन  का  समय तो  हम  आज  की  post  में  बच्चो  और  उनके  बचपन  से  जुड़ी  हुई  कुछ  बाते देखेंगे जो  आपको  बहुत  पसंद  आएगी.Child बच्चो पर अनमोल कथनदोस्तों  दुनिया  में  कोई  सब  से  हसीन  होता  है.  तो  वो  बचपन  ही  है, और  हर  इंसान  को  बच्चे  बहुत  प्यारे  लगते  है  चाहे  वो  अपने  हो या  किसी  और  के  बच्चो  से  कोई  दुश्मनी  नहीं  रखता  बच्चे  बहुत  शैतान  होते  है. वो  दिनभर  शैतानी  करते  है, पर  हमे  भी  उनकी  शैतानिया  पसंद  आती  है. और  कभी – कभी  तो  हम  भी  उनके  साथ  शैतानी  करने  लगते  है.

बच्चो  को  भगवान  का  रूप  माना  जाता  है  उनके  मन  में  किसी  के  प्रति  द्वेश  भावना  नहीं  होती  उनको  छल – कपट  करना  नहीं  आता  हम  देखते  है  अगर  दो  बच्चे  साथ  में  खेलते  है  और  किसी  बात  पर  उनका  झगड़ा  भी  हो  जाता  है  तो  थोड़ी  देर  में  वो  फिर  बात  करने  लगते  है  सब  भूल  जाते है.

हमारे  जीवन  में  बचपन  ही  ऐसा  समय  होता  है  जब  हमे  कुछ  भी  सिखाया  जाये  तो  हम  आसानी  से  सिख  सकते  है  बचपन  एक  खुली  किताब  की  तरह  होता  है  जिसमे  जो  चाहो  वो  लिख  दो  आप  अपने  बच्चो  को  अच्छी  सिख  देंगे  तो  वो  जीवन  में  उसी  तरह  चलेंगे  और  अगर  गलत  सिख  देंगे  तो  वो  भी  अपने  जीवन  में  गलत  ही  करेंगे.

हर  इंसान  यही  चाहता  है  की  मेरा  बच्चा  आगे  जाकर  बहुत  नाम  कमाए  मेरा  नाम  रोशन  करे  पर  उसके  लिए  हमे  भी  अपने  बच्चो  का  ध्यान  रखना  होंगे  वो  क्या  करते  है,  कहा  जाते  है,  किस्से  मिलते  है, क्या कहते है,  कैसा  व्यवहार  करते  है  सबपर  नजर  रखना  होगी.

हमे  अपने  बच्चो  पर  यह  भी  नहीं  जताना  है  की  हम  उनका  ध्यान  रख  रहे  है. उनसे  फ्रेंडली  बिहेव  करना  है  और  उनका  ध्यान  भी  रखना  है. आप  अपने  बच्चो  को  कण्ट्रोल  करना  सीखे  उन्हें  सही  मार्गदर्शन  दे  उनकी  पढ़ाई – लिखाई  पर  ध्यान  दे  और  सब  से  जरूरी  उन्हें  बच्चे  ही  बने  रहने  दे  उनके  ऊपर  कोई  जिम्मेदारी  नहीं  डाले  जिससे  उनका  बचपन  छीन  जाये.

दोस्तों  जब  हम  बच्चे  थे  तब  हमारा  बचपन  बहुत  लम्बा  हुवा  करता  था  मतलब  हमने  हमारे  जीवन  के  शुरुवाती  20 साल  बचपन  में  ही  बिता  दिए  और  उसमे  खूब  इंजॉय  किया  मगर  में  आज  के  दौर  के  बच्चो  को  देखता  हु,  उनका  बचपन  जैसे  कही  खो  ही  गया  है. आज  के  युग  में  बच्चो  का  बचपन  सिर्फ  5  साल  की  उम्र  तक ही  रहता  है.

और  उसके  बाद  तो  उनके  सर  पर  जिम्मेदारियों  का  पहाड़  आजाता  है. बच्चे  school जाते  है  पर  उनके  मन  में  हमेशा  वही  टेंशन  लगी  रहती  है  तो  हमे  अपने  बच्चो  के  मन  से  किसी  भी  तरह  की  टेंशन  को  हटाना  है.  और  उनको  बिना  किसी  बोझ  के  पढ़ाई  करना  सिखाना  है.

पर Friends देखा जाये तो आज के Modern युग के बच्चे हमारे समय से ज्यादा एडवांस है हमारे समय में कोई Technology नहीं हुवा करती थी. मगर आज के बच्चो के हाथ में हर तरह की Technology है बस हमे इस बात का ध्यान रखना है की हमारे बच्चे जिस भी नई चीज का उपयोग करे उससे उनका फायदा हो नाकि उनका मानसिक और शारीरक रूप से नुकसान हो हमे उनके ऊपर इस तरह ध्यान रखना है की उनको पता भी न चले और हम उनका ध्यान रख रहे है, उन्हें सब काम करने दे और उनसे हमेशा प्यार करते रहे.

child बच्चो पर अनमोल कथन”

अब  हम  इस  post में  Child बच्चो पर कुछ  अनमोल  कथन  देखेंगे जो  बच्चो  के  लिए  कहे  गए  है.

1 – बचपन  इंसान  को  भगवान  का  दिया  हुवा  अनमोल  तोहफा  है.

 

2 – हम  जीवन  में  सब  कुछ  भूल  सकते  है, पर  अपना  बचपन  नहीं  भूल  सकते.

 

3 – हमे  अपने  बच्चो  की  वैसे  ही  देखभाल  करनी  पढ़ती  है , जैसे  हम  अपने  धन  की  करते  है.

 

4 – एक  गुणवान  बच्चा  पुरे  कुल  को  तार  सकता  है, और  एक  अवगुणी  बच्चा  कुल  को  डुबो  सकता  है.

 

5 – अपने  बच्चो  को  सदा  आजादी  दे  और  आजादी  भी  ऐसी  की  पुरे  आजाद  भी  न  हो  पाए .

 

6 – बचपन  एक  कोरे  कागज  की  तरह  है, आप  उसपे  जो  लिखोगे  वैसा  ही  उसपे  लिखायेगा.

 

7 – वह  माता  पिता  बड़े  ही  भाग्यशाली  होते  है, जिनको  एक  आज्ञाकारी  पुत्र  मिलता  है.

 

8 – एक  साप  दूसरी  औरत  और  एक  बच्चा  इन  तीनो  को  कभी  मत  छेड़ो

 

9 – जैसे  एक  घर  बनाते  समय  उसकी  नीव  मजबूत  करना जरूरी  है, उसी  तरह  एक  बढ़ते  हुए बच्चे  के  दिमाग  को  मजबूत  करना  जरूरी  है.

 

10 – बच्चो को अच्छा  बनाने का  तरीका  उन्हें  खुश रखना है.

11 – जब  हम  अपने  बच्चो  को  जीवन  के  बारे  में  सब  कुछ  बताने  की  कोशिश  करते  है, तब  हमारे  बच्चे  हमे  बता  देते  है  की  जीवन  असल  में  है  क्या.

 

12 – मेरी  शादी  होने  से  पहले  मेरे  बच्चो  की  परवरिश  करने  के  मेरे  5 सिद्धांत  थे  मगर  अब  शादी के  बाद  बच्चे  5  है  और  सिध्दांत  एक  भी  नहीं.

13 – हमारी  आत्मा  बच्चो  के  साथ  रहने  पर  स्वस्थ  होती  है.

 

14 – हर बच्चा इस संदेश के साथ में दुनिया में आता है, की भगवान अभी भी मनुष्य से नाउम्मीद नहीं हुवा है.

 

15 – बच्चे अमरता का वह एक मात्र स्वरूप है, जिसके बारे में हम निश्चिन्त हो सकते है.

 

16 – हम बच्चो की ख़ुशी और सुंदरता में आनंद पाते है, जो दिल को शरीर के लिए बहुत बड़ा बना देता है.

 

17 – बच्चे कभी भी बढ़ो की सुनने में बहुत अच्छे नहीं रहे है, लेकिन वे उनका उनका अनुकरण करने में कभी असफल नहीं हुए है.

 

18 – एक बच्चे को अपने स्वयं के ज्ञान तक सिमित कीजिये, क्योकि वह दूसरे समय में पैदा हुवा है.

 

19 – उत्तरदायित्व की जड़े और स्वतंत्रता के पंख वे सर्वश्रेष्ठ उपहार है जो हम अपने बच्चो को दे सकते है.

 

20 – हम इस बात की चिंता करते है , की एक बच्चा कल क्या बनेगा, पर हम भूल जाते है की वह आज भी कुछ है.

 

21 – एक सुखमय बचपन ने कितनी ही आशाजनक जिंदगियों को बिगाड़ा है.

 

22 – मेरी माँ बच्चो से बहुत प्यार करती थी, वह जो भी चीज दे सकती थी, यदि बदले में मै रहा होता.

 

23 – ऐसे किसी भी व्यक्ति को बच्चो को दुनिया में नहीं लाना चाहिए जो उनकी प्रकृति और शिक्षा में अंत तक अडिग रहने को तैयार नहीं है.

 

24 – एक शिशु ईश्वर का वह विचार है, की जीवन चलते रहना चाहिए.

 

25 – माता-पिता को न्याय में रूचि नहीं होती, उन्हें शांति और में में रूचि होती है.

 

26 – एक बच्चा कितना भी बिगड़ जाये पर उसकी माँ उसे हमेशा माफ़ कर देती है.

 

27 – अपने बच्चो की जिंदगी को आसान बनाकर उन्हें अक्षम मत बनाये.

 

28 – हर बच्चे का अपना अलग टेलेंट होता है आप उसे यह अहसान कभी ना कराये की तुम उससे कम हो.

 

29 – बच्चो को अपनी राह खुद बनाने दे आप बस उनकी मदद करे.

 

30 – आज के बच्चे आज के समय के हिसाब से काम करते है, आप उनपर अपना समय ना थोपे.

तो दोस्तों यह थी पोस्ट “Child बच्चो पर अनमोल कथनतो आपको यह पोस्ट कैसी लगी प्लीज़ हमे अपने Comments  के माध्यम से जरूर बताये और आप भी इस पोस्ट को पढ़कर कुछ सिख जरूर लेंगे और अपने बच्चो को सही तरिके से सुधारेंगे उन्हें अपने पेरो पर खड़ा होने में मदद करेंगे उन्हें कभी किसी बात में छोटा नहीं महसूस होने देना है आप उन्हें हमेशा ऐसा बताये की तुम दुनिया से अलग हो और तुम वो काम भी कर सकते हो जो आज तक कोई नहीं कर पाया है.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.