Samsung की Success Story इन हिन्दी

Samsung की Success Story इन हिन्दी – दोस्तों आप तो जानते ही हो की Samsung आज के दौर में Electronic Market  में अपना  एक सफलतम स्थान बना चूका है, आज पूरी दुनिया के घरो में और लोगो की जेब में Samsung के Product राज कर रहे है. Smart  Phone  के बाजार में Samsung ने आज अपना स्थान सबसे ऊपर बना लिया है. चाहे इंडिया हो या कोरिया या दुनिया का कोई भी देश आज Samsung अपनी ख्याति हर जगह फैला रहा है और लोग भी इसके दीवाने होते जारहे है. Samsung के बरारबर Electronic  Product  में कोई दूसरी टिकाऊ कंपनी नहीं है लोग Samsung को सबसे भरोसेमंद product  मानते है और उसपर अपना विश्वास जगाते है.

Samsung की Success Story इन हिन्दी

चाहे हम Samsung के TV खरीदते है या Refrigerator या  Air Conditioner या कोई भी ऐसे Electronic  सामान जो हमारे दैनिक जीवन में काम आते है. हमारा उनपर बहुत विश्वास है और हो भी क्योंना क्योकि Samsung का कोई भी product  एक बार खरीदा और बाद में कई साल तक देखने की कोई जरूरत नहीं होती दोस्तों मैंने भी Samsung का आज से चार साल पहले एक Smart  Phone  खरीदा था जिसे में आज तक Use  कर रहा हु, उसमे मुझे कोई दिक्कत नहीं हुई तो मित्रो आज की post  में हम Samsung कंपनी के Success Story  देखेंगे की कैसे Success दुनिया के Market में आई और सब के दिलो पर राज करने लगी.

दोस्तों 1938  में  Lee Byung  Chul  ने Samsung कम्पनी को start  किया था. शुरुवात में सिर्फ 40  लोग इसमें काम करते थे. पहले यह द्राय फ़ूड, नूडल, और फिश का Business करती थी. और दोस्तों जैसे – जैसे कंपनी बड़ी होती गयी वैसे – वैसे  Lee Byung  Chul  बाकी नई जगहों पर अपना Business  लेके गए, 30  years  में Insurance, security, और Retail  में अपने काम को बढ़ाया और उसके बाद 1969 में पहली बार Samsung ने Electronics  में अपना हाथ आजमाया

Samsung की Success Story इन हिन्दी

Samsung की Success Story इन हिन्दी”

और उस समय Samsung ने पहला प्रोडक्ट  p – 3202 Black & White Television  को 1970  में launch  किया उसके बाद Samsung ने कई और Electronic  product  बाजार में उतारे जैसे – रेफ्रीजिरेटर, कलर टीवी, माइक्रोवेव ओवन, और वीसीआर बनाये और 1983  में पहलीबार Telecommunication में अपना कदम रखा  sc – 100  dult in car Phone  बनाया पर ये बुरी तरह से पिट गया पर फिर भी Samsung ने हर ना मानते हुए अपने फेलियर के बारे में research किया और 1988  में sh – 700 Phone  लांच किया पर इसको भी कुछ सफलता हाथ ना लगी और Samsung अब तक Mobile में कुछ खास ना कर सकी

Samsung की Success Story इन हिन्दी

और 7 जून 1993  को उन्होंने चेयरमैन के साथ मेटिंग रखी जिसमे Motorola  की तरह एक बेहतरीन Phone  बनाने को कहा उन्होंने कुछ समय बाद  sh – 700  Phone  launch  किया जो की लोगो को खूब पसंद आया और यही Samsung  का turning  point  था इस Phone  के सफल होने का कारण ये भी था की यह Phone  पहले Phone  के मुकाबले काफी research  के बाद Market  में उतारा गया

इसके बाद 1996  से लेकर 1998  तक Samsung  ने cdma  में अपना कदम रखा और cdma  Market  में 57% अपना कब्ज़ा जमाये रखा 2004  में Samsung  ने पहली बार अपना Phone  India  के market  में उतारा शुरुवात इतनी आसान नहीं थी उस वक्त भारत में Nokia  का दबदबा था उस वक्त Nokia  एक किफायती और भरोसेमंद Phone  हुवा करता था.

Samsung की Success Story इन हिन्दी

लोग Nokia  पर ही भरोसा करते थे. जिसे देखो वो बस Nokia  ही खरीदना चाहता था. फिर 2009 – 2010  में Samsung ने galaxy  Phone  launch  किये उसके बाद तो कंपनी ने सारी दुनिया में धूम ही मचादि India  ही नहीं पुरे world  में Samsung  का नाम हो गया galaxy  Phone  बहुत popular  हुए इसी कारण दुनिया की सबसे बड़ी IT  कपनी जिसमे करीबन 325000  worker  आज काम करते है.

दोस्तों साथ ही Samsung  ने International  corporate  में बुर्ज खलीफा, पेट्रोनस टावर प्रोजेक्ट हासिल किया k9 थंडर नाम का मिलिट्री टैंक साउथ कोरिया के लिए बनाया Samsung  Life  Insurance  दुनिया में 14  नंबर पर है. मित्रो Samsung  इसके आलावा भी बहुत product  पर काम कर रहा है. तो इस तरह Samsung ने दुनिया में  Success हासिल करी है.

Samsung की Success Story इन हिन्दी

Samsung के बारे में कुछ ऐसी रोचक बाते जो आपको जानना चाहिए –

दोस्तों दुनिया भर के Mobile बाजार में पिछले एक दशक में जबरजस्त बूम आया है, खासकर बीते 5-6 वर्षो में Smart  Phone  की तकनीक ने इस बाजार को सबसे Smart  बना दिया है. कोरिया की Samsung  टेलीकम्युनिकेशन इस बाजार में 24.6 फीसदी हिस्सेदारी के साथ सबसे बड़ी कम्पनी है, लेकिन Mobile का यह सफर 29 साल पुराना है, जो अब जाकर सफलता के शीर्ष पर है.

पर मित्रो यह दिलचस्प है की भारत से लेकर दुनिया के तमाम देशो में जिस Samsung mobile ने अपनी धाक बनाकर रखी है, वह कभी मोटोरोला मोबाइल को अपना बेंचमार्क मानती थी. तो दोस्तों Samsung टेलीकम्युनिकेशन के बारे में ऐसी कुछ रोचक बाते है जो Samsung  Users को पता होना चाहिए.

1 – Samsung Telecommunications 77 साल पहले 1938 में शुरू हुए सैमसंग ग्रुप की सब्सिडियरी कंपनी थी.

2 – Samsung टेलेकम्युनिकशन्स की शुरुवात 1977  में हुई. दक्षिण कोरिया की यह कम्पनी Mobile Phone  के साथ टेलेकम्युनिकशन्स सिस्टम, MP3  Player  और Laptop  के क्षेत्र में कारोबार करती थी.

3 –  Android  Smart  Phone  के बाजार में Samsung  46  फीसदी हिस्सेदारी के साथ दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है.

4 – साल 1983 में कंपनी ने पहली बार Mobile Telecommunications के क्षेत्र में कदम रखा, जबकि 1986  में पहली बार SC – 100  के नाम से पहला बिल्ट – इन कार फ़ोन बनाया गया.

5 – कंपनी का यह प्रोडक्ट बुरी तरह असफल रहा, जिसके बाद वायरलेस डवलपमेंट टीम के तत्काल प्रमुख की ताय ली ने कंपनी से मोटोरोला के 10  मोबाइल फोन खरीदने की गुजारिश की. ली इन फ़ोन को बेंचमार्क के तोर पर रिसर्च विंग को देना चाहते थे.

6 – दो साल की कड़ी मेहनत के बाद 1988  में Samsung  ने दक्षिण कोरिया में अपना पहला Mobile  Phone  sh-100  लांच किया. और इसके बाद कंपनी ने हर साल एक नया मॉडल लांच किया, लेकिन मोबाइल फ़ोन के चलन में नहीं होने के कारण वह किसी भी मॉडल के 2 हजार यूनिट से ज्यादा नहीं बेच पायी.

7 – साल 1993  में 7 जून को चेयरमेन ली ने कम्पनी के 200  अधिकारियो के साथ बैठक की और “सैमसंग न्यू मैनेजमेंट” के तहत एक साल के अंदर मोटोरोला कंपनी की तरह बेहतरीन प्रोडक्ट करने का टारगेट दिया.

8 – नवम्बर 1993  में कंपनी ने आखिरकार SH-700  के नाम से नया मॉडल बाजार में लांच किया, जिसकी खूब सराहना हुई.

9 – कंपनी ने SH-700  के हर पीस को बारीकी से चेक कर बाजार में उतारा. जिस किसी पीस में खराबी आयी, उसे कंपनी के कर्मचारियों के सामने जलाया ताकि उन तक सीधा संदेश जाये की कमी को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा.

10 – साल 1994  में कंपनी ने कुछ बदलाव के साथ SH-770  को लांच किया. खास बात यह रही की एक नई पॉलिसी के तहत इस फ़ोन को Anycall  के ब्रांड नेम से लांच किया गया.

11 – कम्पनी के लिए सबसे बड़ी परेशानी इस मत को तोडना था. की सैमसंग के फ़ोन मोटोरोला की तुलना में कमजोर और कमतर है. इस नाम के पीछे ग्राहकों के विश्वास को जितना मुख्य लक्ष्य था.

12 – साल 1998  में GSM  युग में प्रवेश से पहले Samsung  ने 1996 से 1998  तक CDMA  सर्विस की दुनिया में खूब नाम कमाया.

13 – CDMA  phone के क्षेत्र में शुरुवात के महज एक साल बाद 1997  में कंपनी CDMA  बाजार में 57  फीसदी की हिस्सेदार बन गयी है. यही नहीं, महज एक साल में कंपनी ने 10 लाख CDMA  phone  बेचे.

14 – साल 1997 में कंपनी घरेलू बाजार से बाहर हांगकांग और ब्राजील में Mobile  phone  production  का काम शुरू किया. इस तरह पालने से बाहर पाव रख Samsung  ने वैश्विक बाजार में दस्तक दी और कंपनी को हाथो हाथ लिया भी गया.

15 – CDMA  बाजार में अच्छी पैठ होने के कारन कंपनी पर ग्राहकों का विश्वास बड़ा. और इस दौरान कंपनी को दो बार बेस्ट मैनुफेक्चरर  का Mobile  न्यूज़ अवार्ड भी मिला. यह अवार्ड इससे पहले Nokia  और इरिक्सन को मिलता था

16 – Samsung  ने भारतीय Mobile  बाजार में 2004  में पहली बार सीधी दस्तक दी.

17 – साल 2008  में कनेक्टिविटी और क्वालिटी पर पकड़ बनाने के बाद कम्पनी ने छह गोल प्वाइंट निर्धारित किये – स्टाइल, इंफोटेनमेंट, मल्टीमीडिया, कनेक्टेड, एसेसियन, और बिजनेस.

18 – कम्पनी की यह स्ट्रेटेजी कारगर साबित हुई और यही से कम्पनी ने नई उड़ान भरी.

19 – मोबाइल फ़ोन के बाजार में सैमसंग ने सबसे बड़ी बाजी 2009  में मारी. इससे पहले तक बाजार फीचर phone  से आगे बढ़कर रंगीन, Multimedia, touch  screen  और java  के रंग में रंग चूका था.

20 – साल 2009  के जून में कम्पनी ने अपना पहला एंड्रॉइड ओपन सोर्स smartphone  Samsung  Galaxy  (GT -17500) लांच किया.

21 – उसी साल नवंबर में कम्पनी ने Samsung  Galaxy  Spica  और Galaxy  portal  लॉन्च किया.

22 – Smart  phone  बाजार में Samsung  को सबसे बड़ी सफलता ठीक एक साल बाद 2010  के जून में मिली, जब कम्पनी ने Samsung  Galaxy  S को लॉन्च किया.

23 – और इसके बाद कम्पनी को पीछे मुड़कर देखने की जरूरत नहीं पड़ी. कम्पनी ने एक सोची समझी निति के तहत यह तय किया की वह हर साल एक से ज्यादा नए मॉडल, नए वेरियंट और पहले से ज्यादा बेहतर तकनीक लांच करेगी.

24 – Samsung  की यह निति काम कर गई और Galaxy Ace , Galaxy S II, Galaxy Y, Galaxy Note, Grand, S4 और Alpha  होते हुए यह सफर आज Galaxy S6 और S6 EDGE  तक पहुंचा.

 

तो दोस्तों देखा आप ने किस तरह Samsung ने अपनी Success की जुरनी को पूरा किया और आज एक बड़ा मुकाम हासिल किया आज Samsung को किसी भी ग्यारेन्टी की जरूरत नहीं है. Samsung का आज नाम ही काफी है दोस्तों हमें भी Samsung से कुछ सिख लेना चाहिए और अपने जीवन को भी एक सफल जीवन बनाने के लिए ऐसे ही कुछ प्रयत्न करना चाइये जिससे हमारा जीवन भी या हमारा काम भी सफलतम बन पाए और हमारा भी नाम सारी दुनिया में बने और हम भी ऐसे काम करते जाये की दुनिया हमें आगे याद करे और हम एक उचाई पर पहुंचे.

 

तो दोस्तों यह थी post  ” Samsung की Success Story इन हिन्दी ” तो आपको यह पोस्ट कैसी लगी प्लीज़ हमें बताये और आप इस पोस्ट से Related अपने कोई भी सुझाव हमे Comments के माध्यम से भेज सकते है.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.