पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों से बचने के उपाय

पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों से बचने के उपाय – दोस्तों आज  पुरे देश में हर जगह सिर्फ एक ही हाहाकार है , और वह क्या है , ” पेट्रोल – डीजल की बढ़ती कीमते  ”  और इन बढ़ती कीमतों से देश का हर व्यक्ति चाहे वो आम हो या खास सभी परेशान हो रहे है . क्योकि पेट्रोल – डीजल की कीमत बढ़ना याने सभी जरूरत की चीजों के दाम बढ़ना तो आज हम इस post  में ऐसे कुछ उपाय देखेंगे जिनके द्वारा हम इन बढ़ती कीमतों से कुछ हद तक निजात पासके .पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों से बचने के उपायदोस्तों जैसा की हम जानते है की आज की दुनिया पूरी तरह ईंधन पर depend  हो चुकी है , याने कारखानों से लेके यातायात और यातायात से लेके किसान या कोई भी छोटी से छोटी मशीनरी आज ईंधन पर ही depend  है . याने आज एक ऐसी नौबत बन चुकी है , यदि हमारे पास ईंधन नहीं हो तो हम कुछ भी काम नहीं कर सकते हम बस असहज होकर देखते रहते है और उससे बचने का हमारे पास कोई उपाय भी नहीं है

दोस्तों आज हम पेट्रोल – डीजल के बहुत आदि बन चुके है याने इन के बगैर हमारा कोई भी काम नहीं चल सकता जैसे हमे कही जाना हो तो हमे गाड़ी की जरूरत पड़ती है और गाड़ी को पेट्रोल की जरूरत पड़ती है या डीजल की जरूरत पड़ती है . या हमे किसी मशीन को चलाना है तो उसमे भी आज – कल डीजल की जरूरत पड़ती है . याने हम कोई भी काम बिना पेट्रोल – डीजल के नहीं कर सकते .

पर दोस्तों यह आज आधुनिक युग में ही हुवा है की हम पेट्रोल – डीजल के इतने आदि हुए है . अगर हम थोड़ा पीछे याने आज से 20 – 25  साल पीछे जाये तो तब क्या पेट्रोल – डीजल की इतनी जरूरत पड़ती थी . नहीं पहले के लोगो को पेट्रोल – डीजल की इतनी जरूरत नहीं पड़ती थी . उनका काम बगैर पेट्रोल – डीजल के भी चलता था . और पहले भी सब काम होते थे पहले भी लोग घर से बाहर जाते थे . अपना हर काम कहते थे . और ऐसा भी नहीं की पेट्रोल – डीजल की कोई जरूरत नहीं होती थी होती थी पर तब उसकी इतनी कीमत नहीं थी जितनी आज है .

अगर हम पहले की बात करे तो पहले लोगो के पास साधन कम थे . याने ज्यादातर लोगो के पास अपने घर की गाड़ी नहीं थी . याने कही जाना होता था तो बस या ट्रैन से ही जाते थे . मानलो उस समय किसी  गांव में  100  घर में से मुश्किल से 5 मोटरसायकल हुवा करती थी . पहले के लोग आवागमन के लिए ज्यादातर सायकिल या कोई ज्यादा पैसे वाला होता था वो घोड़े या टांगे का उपयोग करते थे .

और उसकी तुलना अगर हम आज के युग से करे तो आज हर घर में जितने सदस्य है उतनी गाड़ी होती है . दोस्तों पेट्रोल – डीजल की कीमते क्यों बढ़ती है . क्योकि उनकी खपत ज्यादा हो चुकी है . और जैसा मैने बताया की आज हर घर में जितने सदस्य है , उतनी गाड़ी है , तो आप ही बताइये की कीमते बढ़ेगी या घटेगी किसी भी चीज की जितनी मांग बढ़ती है उस हिसाब से उसकी कीमत भी बढ़ती है . और आज पेट्रोल – डीजल की मांग बहुत बढ़ चुकी है इसलिए  इन की कीमते भी आसमान छू रही है .

पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों से बचने के उपाय”

और मै यह भी नहीं कहता की हम उसी आज से 20  – 25  साल  पुराने दौर मै चले जाये नहीं आज हम पीछे नहीं जा सकते आज इंसान ने अपने आप को जितना आगे बढ़ाया है उसके लिए उसे सभी चीजों की अधिक मात्रा मै जरूरत पड़ती है . आज देश और दुनिया आगे बड़ी है , नए – नए अविष्कार होते है . और इतने बड़े – बड़े कारखाने और मशीनरी और ट्रांसपोर्ट सिस्टम चलाया जाता है .

और उसके लिए बहुत पेट्रोल – डीजल की जरूरत लगती है . और पहले की तुलना में इंसान ने अपनी आय भी बड़ाई है . पहले घर का एक ही सदस्य पैसे कमाता था . मगर आज जितने सदस्य है उतने काम करते है . याने पैसे कमाते है .

और दोस्तों रही बात पेट्रोल – डीजल की बढ़ती कीमतों की तो वो कैसे कम होगी मेरे ख्याल से अब हम कीमत को वापिस कम तो नहीं कर सकते पर अपने उपयोग पर थोड़ा नियंत्रण कर सकते है . जिससे बचत हो और धीरे – धीरे थोड़ी कीमते कम हो और उसके लिए सिर्फ एक आदमी नहीं पुरे देश को प्रयास करना होगा तभी कुछ फर्क दिखेगा .

दोस्तों कहते है , पैदल चलने से इंसान की सेहत बनती है . वो हस्ठ – पुस्ठ रहता है . और आप बोलोगे की पेट्रोल – डीजल के बिच सेहत कहा से आगयी . तो दोस्तों जैसा मैने आपको बताया की हमे ईंधन की बचत करना चाहिए जहा जरूरत है . वही इसका उपयोग करे और जहा बचा सकते है वहा बचाये लेकिन मैने ऐसे – ऐसे लोगो को देखा है की मानलो उनको सुबहे उठ कर मंदिर जाना है

तो वो गाड़ी से जायेगे भलेही हो मंदिर हजार मीटर की दुरी पर हो बाजार में सब्जी लेने जाना है , तो भी स्कूटर लेके जायेगे और किसी दोस्त के घर भी जाना है तो वह भी गाड़ी के बगैर नहीं जाते है दोस्तों जैसे कही दूर जाना है तो समझ में भी आए पर लोग थोड़ी – थोड़ी दूर में भी पैदल नहीं चलते और इसी लिए मैने कहा था की पैदल चलने से सेहत अच्छी रहती है .

और दोस्तों होता क्या है , लोग पेट्रोल – डीजल की बढ़ती कीमतों के लिए सरकार को दोष देते है , की जैसे सरकार ही सारा ईंधन युस करती हो पर में आप से पुछु की हम इस बात का सरकार को दोस देंगे या उसे गाली देंगे तो उससे क्या होगा सरकार हमे सुविधाएं देती है , और उन सुविधावों का उपयोग और ये  कहु की सही तरिके से उपयोग करना हमारा काम है . सरकार छोटी – छोटी चीजे तो नहीं देखेगी की हम कैसे गाड़ी चलाते है .

किस तरह ईंधन को वेस्ट करते है यह तो हमे ही ध्यान रखना होगा और भलेही सरकार राजनेटिव दबाव में आके पेट्रोल – डीजल की कीमते कम भी करदे पर उसका किसी और रूप में असर जनता पर ही होता है वो पैसा हमे किसी और टेक्स के रूप में चुकाना होगा और इससे बचने का यही उपाय है , की हम किसी भी तरह से पेट्रोल – डीजल की बचत करे .

तो दोस्तों अब हम इस post  में कुछ ऐसे उपाय देखेंगे जिसके द्वारा  हम पेट्रोल डीजल की खपत को कम कर सके और आगे जाके पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों से भी बच सके.

1 – ईंधन को बचाने की कोशिश करे –

दोस्तों हम पेट्रोल – डीजल की बढ़ती कीमतों से निजात पाने के लिए एक यह उपाय कर सकते है , की हम ईंधन की बचत करे जैसे हमे जब गाड़ी की जरूरत हो तभी हम उसे चलाये और जहा हम पैदल जा सकते है . वहा पेडल जरूर जाये मानलो हमारे पास कोई मशीन है वो ईंधन से चलती है तो जब उसका काम नहीं है तो उसे बंद करदे ताकि हमे बचत हो . और ऐसी कई जगहे मैने देखा है कोई कार वाला इंसान होता है , वो खड़ा है और phone  पर बात कर रहा है तो उस वक्त भी वह गाड़ी को बंद नहीं करता गाड़ी चलती ही रहती है . तो अगर आपको ऐसा लगे की मुझे 5  मिनट बात करना है तो उस समय में गाड़ी को बंद करदे तो इससे भी हमारे पेट्रोल – डीजल की बचत होगी . 

2 – ज्यादा वाहन ना खरीदे  –

दोस्तों जैसा हम सब जानते है आज – कल हर इंसान पैसे कमाता है . और सब सोचते है की मेरी सेपरेट गाड़ी हो और यदि मुझे Office  जाना है . तो में उससे जाऊ भलेही पहले से घर में दो   गाड़िया हो तब भी वो तीसरी गाड़ी खरीदने कि सोचता है , और Office  भलेही 5 – 10  किलोमीटर पर है . हम इतनी दूर पब्लिक ट्रांसपोर्ट से भी जा सकते है या कभी जरूरत पड़ने पर किसी से लिफ्ट भी ले सकते है . क्योकि दोस्तों जितनी गाड़िया बढ़ेगी उतनी ईंधन की खपत भी बढ़ेगी और उसके साथ ही उसका दाम भी बढ़ेगा और फिर हम सरकार को गाली देंगे तो हमे ऐसा नहीं करना है जितना हो सके हमे अपना काम चलना है .

3 – इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा दे  –

दोस्तों भगवान ना करे की आगे जाकर कही ऐसा समय भी आए की पेट्रोल और डीजल पूरी तरह ही दुनिया से खत्म हो जाये और ऐसा हो भी सकता है क्योकि जिस तरह से दुनिया में ईंधन की खपत बढ़ती जारही है , इससे कही ऐसा ना हो की आगे आने वाली पीडियो को ये मिले ही ना तो दोस्तों उसके लिए हमे कुछ ऐसे उपकरण बनाने होंगे जो बिना पेट्रोल – डीजल के भी काम करे

जैसे हमे इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देना होगा आज दुनिया के वैज्ञानिक इस दिशा में बहुत तेजी से काम कर रहे है , की ऐसी गाड़िया बनाई जाये जो बिना पेट्रोल – डीजल के चले और इस दिशा में वो बहुत तेजी से अग्रसर भी है . और कभी – कभी अख़बार में पढ़ने को भी आता है की इलेक्ट्रिक वाहन बन रहे है . पर यह बहुत बड़ी मात्रा में करना होगा तभी इसका लाभ जनता को मिलेगा और पेट्रोल – डीजल की खपत कम होगी और इसके दाम में कमी आएगी .

4 – कारखानों पर खास ध्यान दे  –

दोस्तों हमारे देश में या दुनिया में कही भी सबसे ज्यादा ईंधन की खपत कारखानों में ही होती है . और वहा अच्छी क्वालिटी कि ईंधन जैसे ऑइल लगता है . तो वहापर भी खास ध्यान देना होगा की ईंधन वेस्ट ना हो याने मशीने फालतू ना चले जब उनका काम नहीं है तो उन मशीनों को बंद करदे कारखानों में गाड़िया भी बहुत होती है , तो यदि कम जरूरत है तो उनको भी कम चलाये दोस्तों में भी एक कंपनी में काम करता हु , तो में भी देखता हु कभी – कभी यहा भी ईंधन की बर्बादी होती है तो हमे यहा से भी इस बर्बादी को रोकना होगा ताकि हम ईंधन की बचत कर सके और कीमतों पर लगाम लगा सके .

5 – Public Transport को बढ़ावा दे –

दोस्तों आज अगर किसी को बोलो की तुझे बस में बेठ कर फ्ला जगहे जाना है . तो वो साफ मना करदेगा की नहीं में मेरी बाइक से आजावुगा चाहे ज्यादा पेट्रोल जल जाये तो लोगो की ऐसी मानसिकता क्यों बन गयी है की लोग Public Transport  में बैठना नहीं चाहते . इसका क्या कारण है . दोस्तों खासकर हिंदुस्तान में लोगो के मन में यह भावना बनी हुई है की हमारे यहा का ट्रांसपोर्ट सिस्टम अच्छा नहीं है , बस में जावो तो बैठने की जगह नहीं मिलती लोग गंदी – गंदी बाते करते है .

महिलाएं अपने आप को सुरक्षित नहीं मानती और ट्रेन का भी यही हाल है आज लोगो के पास समय की भी कमी है . तो यह जिम्मेदारी देश की या राज्यों की सरकार की बनती है की वो ट्रांसपोर्ट सिस्टम को अच्छा बनाये लोगो के मन में उसके प्रति विश्वास जगाये ऐसा क्यों होता है . की लोग ज्यादा पैसा खर्च करना पसंद करते है पर बस या ट्रैन में नहीं बेठते तो हमे इस सिस्टम को सुधारना होगा और इसमें सरकार को खास भूमिका निभाना होगी तभी लोग इसमें बैठेंगे और अपना वाहन घर रखेंगे जिससे हमारा ईंधन बचेगा और आगे जाकर उसका रेट (कीमत) नहीं बढ़ेगा .

6 – सरकार उचित निती बनाये –

दोस्तों पेट्रोल – डीजल की खपत कम करने में और उसकी मूल्य वृध्दि रोकने में पूरा प्रयास देश की जनता को ही नहीं इसमें सरकार को भी सहयोग देना होगा सरकार को ऐसी निती बनाना होगी Indian Government  को हर छेत्र में ध्यान रखना होगा याने गाड़ियों की बिक्री पर भी नियम बनाना चाहिए कितने ऐसे पुराने वाहन होते है जिनमे ईंधन की खपत बहुत जयादा होती है , तो उनको बंद करना चाहिए . लोग कितना पेट्रोल – डीजल उपयोग करते है उस हिसाब से योजना बनाये और इन योजनावों का क्रियान्वयन हो सरकार को समय – समय पर हर छेत्र में जांच करवाना चाहिए की कहा ईंधन वेस्ट होरहा है और उसपर नजर रखना है .

7 – Oil Free day मनाये –

दोस्तों आज कल के समय में संघटन की शक्ति बहुत अच्छी है . और आज – कल ऐसा होता है की लोगो को जो काम करना होता है या सरकार से कोई मांग मनवाना होती है . तो सब लोग मिलकर आंदोलन करते है और अपना काम पूरा करते है . तो दोस्तों उसी प्रकार अब देश और दुनिया के यंगस्टर्स को Oil Free day मनाना चाहिए . और इसमें ऐसा करे की पुरे देश में एक दिन कोई भी अपनी गाड़ी को हाथ नहीं लाएगा . कही जाना होतो public Transport  का उपयोग कर सकते है .

और हो सके तो  उसका भी कम उपयोग करे और आप चाहे यह काम एक छुट्टी वाला दिन Decide  कर के कर  सकते है . की उस दिन किसी भी तरह से पेट्रोल – डीजल का उपयोग ना हो और दोस्तों आप कल्पना करो यदि भारत जैसे देश में अगर एक दिन पेट्रोल – डीजल का use  नहीं होगा तो हमारे देश में ईंधन की कितनी बचत होगी .  और इससे कई फायदे है एक तो ईंधन की बचत और आगे जाके कीमतों में भी कटौती होगी और सबसे बड़ा फायदा हमारे देश में प्रदूषण पर नियन्त्र होगा . और यह काम आप महीने में एक दिन फिक्स करके कर सकते है

8 – हमे सब लोगो को जागरूक बनाना होगा –

दोस्तों कई बार होता क्या है सरकार कोई योजना बनाती है या देश में कोई मुहीम चलती है , उसकी जानकारी आम जनता तक नहीं पहुंच पाती तो हमे Media  और Social Media  के द्वारा लोगो को यह जानकारी दे कर जागरूक करना है , की पेट्रोल – डीजल हमारे लिए कितना जरूरी है और यह हमे बचाना होगा क्योकि यह धीरे – धीरे खत्म होता जारहा है . लोगो को ईंधन का उपयोग करना बताना होगा की इसका किस तरह उपयोग करे और जितनी जरूरत है उतनी मात्रा में ही उपयोग करे और यदि आप जहा पैदल चलकर जा सकते हो तो बिलकुल जाये हमे छोटे – छोटे प्रयासों द्वारा ईंधन की बचत करना होगी ताकि इससे कीमत भी कम हो सके और आगे आनेवाली पीढ़ी को पेट्रोल – डीजल मिल भी सके .

तो दोस्तों यह थे कुछ उपाय जिससे हम पेट्रोल – डीजल की बचत कर सकते है . दोस्तों चाहे सरकार प्रयास करले चाहे कोई और पर ईंधन की बचत तभी होगी जबतक देश की जनता नहीं प्रयास करेगी और आप इन उपायों को भी अपनाये और इनके आलावा आपके पास भी कोई उपाए हो आप उसे भी अपनाये और हमे भी बताये पर हमारा टारगेट यही है . की हमे देश में पेट्रोल – डीजल की बढ़ती हुई कीमतों को कम करना है .

तो दोस्तों आपको यह post  ” पेट्रोल – डीजल की बढ़ती कीमतों से बचने के उपाय ” कैसी लगी pliz  हमे जरूर बताये और इन उपायों को आप अपनाये और लोगो को भी बताये और आप इस post  से Related  अपने अनमोल विचार हमे Comments  के माध्यम से भेज सकते है .

3 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.