Nature Quotes In Hindi

Nature Quotes In Hindi

 

Nature का  इंसान  के जीवन में सम्पूर्ण योगदान है . और अगर Nature नहीं तो इंसान नहीं और इंसान ही क्या सम्पूर्ण जिव – जंतु खत्म . इसलिए हमे Nature का ख्याल करना है . और आज हम इस post  ” Nature Quotes In Hindi ” में Nature के गुणों को देखेंगे की Nature (प्रकृति) में कितने गुण है . और प्रकृति अपने गुणों का  किस तरह प्रयोग करती है .

 

दोस्तों वैसे तो सम्पूर्ण प्रकृति में इतने गुण समाये हुए है , की हम क्या उसके गुण निकाले प्रकृति ने हमे जीना सिखाया हमे पेड़ – पौधे दिए हवा पानी दिया . नदियाँ झरने दिए और फसले भी प्रकृति के द्वारा ही हमे मिलती है . हम इंसान केवल प्रकृति के गुणों की महिमा कर सकते है . और हम प्रकृति को कुछ दे भी नहीं सकते पर प्रकृति हमे दिन रात देती ही रहती है .

 

और दोस्तों अगर हम प्रकृति के गुणों की ऐसे बात करे तो प्रकृति ने हमे शुद्ध जल दिया है जिसे हम पी सकते है , हमे शुद्ध हवा मिली है . और भी प्रकृति हमे हर मौसम के अनुसार फल – फूल देती है . और जिन्हे हम खाकर स्वस्थ रहते है . भगवान ने ही प्रकृति बनाई है और भगवान ने ही मनुष्य और हर जिव – जंतु बनाये है . और सब को एक दूसरे के बंधन में बांधके रखा है और कुछ भी गढ़ – बढ़ होतो किसी का भी सही रहना मुश्किल है .

 

जैसे अगर 4 दिन सूरज नहीं निकले बादलो के कारण तो क्या होगा इंसान ऐसे ही बीमार पढ़ने लग जाते है . तो यह क्या है यह प्रकृति का हमारे प्रति attachment है , जो की एक दूसरे को बांधे रखता है .

 

पर ऐसा भी नहीं है हम भी प्रकृति Nature के अहसानो को उतार सकते है , और उसे कुछ देकर नहीं बल्कि उसका ख्याल रखकर . अगर हम प्रकृति का ख्याल रखेंगे तो ये हमारा दुगना ख्याल रखेगी . और वो भी बिना कुछ लिए बस आपको इसका ख्याल रखना है हमे पेड़ पोधो को बचना है , नदियाँ झरनो को बचना है . ताकि आज जो प्रकृति के गुण जो हम भोग रहे है वो हमारी आने वाली पीडियो को भी मिलते रहे . और आपको यह post भी पढ़ना चाहिए  हम Nature को कैसे संभाल कर रखे

और यह भी  क्या हम प्रकृति के करीब है

 

तो दोस्तों अब हम Nature (प्रकृति) के गुणों को देखेंगे और में समझता हु , की ये गुण आपको बहुत पसंद आएंगे .

 

 Nature Quotes In Hindi:

 

1 – प्रकृति में संतुलन बनाये रखने की ताकत होती है .

 

2 – भगवान की कला का उत्कृष्ट नजारा प्रकृति है .

 

3 – खुद को बदलो प्रकृति को नहीं .

 

4 – हम हमारे चारो और जो हरियाली देखते है , यह प्रकृति का रूप है .

 

5 – प्रकृति कभी अपने नियम नहीं तोड़ती .

 

6 – प्रकृति हमारा सबसे अच्छा गुरु  है .

 

7 – ख़ुशी कर्तव्य का प्राकृतिक फूल है .

 

8 – प्रकृति के प्रत्येक रूप में कुछ ना कुछ अदभुत है .

 

9 – जिंदगी जीने का असली मजा प्रकृति के साथ है .

 

10 – पेड़ और मनुष्य का स्वभाव सीधा एवं सरल होने पर अपने अस्तित्व  की रक्षा नहीं कर पता है .

 

11 – प्रकृति से प्रेम आत्मा को सुख देता है , और सुखी आत्मा इंसान को अंदर से खुश रखता है .

 

12 – पेड़ के पत्ते जब गिरते है तो वो दुखी नहीं होता  है उसे पता है ये फिर उग जायेगा .

 

13 – प्रकृति और इंसान का कनेक्शन दिल से और बहुत मजबूत होता है .

 

14 – वो सबसे धनवान है जो कम से कम संतुष्ट  है . क्योकि संतुष्टि प्रकृति की दौलत है .

 

15 – आप प्रकृति को अपने जितने भी करीब देखोगे , आप उसको उतना ही बेहतर समझोगे .

 

16 – यदि आप वास्तव में प्रकृति से प्रेम करते है , तो आपको हर जगह प्रकृति का सौंदर्य दिखेगा .

 

17 – प्रकृति के साथ समय बिताने से आंतरिक और आध्यात्मिक ऊर्जा मिलती है .

 

18 – हरा इस संसार का महत्वपूर्ण रंग है , और इसी से इसकी मधुरता सबके सामने आती है .

 

19 – प्रकृति में डूब जाइये और उसके बाद आप सबकुछ बेहतर समझने लगेंगे .

 

20 – प्रकृति हमेशा जोश के रंग पहनती है .

 

21 – प्रकृति को काबू में रखने के लिए हमेशा उसका कहा मानिये .

 

22 –  अपना चेहरा सूर्य की रौशनी की तरफ रखिये और आपको परछाई नहीं दिखाई देगी .

 

23 – जो पेड़ धीरे – धीरे बड़े होते है उन पर सबसे बेहतर फल आते है .

 

24 – एक अच्छा व्यक्ति सजीव वस्तुवो का मित्र होता है .

 

25 – चीजों के प्रकाश में आवो और प्रकृति को अपना शिक्षक  बनने दो .

 

26 – मेरा भगवान में भरोसा  है और में उसे ही प्रकृति मानता हु , क्यों की वही  सब को चलता है .

 

27 – मुझे लगता है की में एक पेड़ जितनी सुंदर कविता  कभी नहीं देख सकता

 

28 – इंसान द्वारा बनाये नियमो को तोडा  जा  सकता है , परन्तु प्रकृति के नियमो को कभी नहीं .

 

29 – प्रकृति हमे हमेशा मिठास ही देती है .

 

30 – कुदरत की सभी चीजों में कुछ  ना कुछ अजीब है .

 

31 – प्रकृति हमे जीना सिखाती है .

 

32 – जो प्रकृति से दूर होते है उनसे ज्यादा गरीब दुनिया में कोई नहीं है .

 

33 – प्रकृति से की गई छेड़ – छाड आगे जाकर विनाश का कारण बनती है .

 

34 – कुदरत हमारे घर के समान है .

 

35 – दुनिया मिटटी है , परन्तु प्रकृति कभी नहीं मिटती .

 

36 – आप Nature करीब से जाने और उसकी सुंदरता का मजा ले .

 

37 – Nature हमे हर चीज देती है , अपने – अपने समय अनुसार .

 

38 – पुराणों में भी प्रकृति को परमात्मा से जोड़कर बताया गया है .

 

39 – मनुष्य की ग्रोथ है प्रकृति .

 

40 – आप प्रकृति का ख्याल रखे प्रकृति आप का ख्याल रखेगी .

 

41 – पकृति  हमेशा समय के साथ चलती है .

 

42 – प्रकृति और मौसम एक दूसरे के अनुरूप है .

 

43 – जहा मनुष्य नहीं है वह भी प्रकृति Nature  है .

 

44 – हम किस तरह Nature  को बचा सकते है .

 

45 – भगवन ने भी पकृति  को अपने करीब बताया है .

 

46 – हमे प्रकृति का संतुलन बनाये रखना है .

 

47 – में भगवान में विश्वास रखता हु , बस मै उसे प्रकृति कहता हु .

 

48 – तकनीक और विज्ञानं दोनों प्रकृति में व्याप्त  है , कोई बाहर से लेकर नहीं आया .

 

49 – प्रकृति हमारी सभी जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त संसाधन उपलब्ध करवाती है ,

लेकिन हमारे लालच को पूरा करने के लिए नहीं .

 

50 – प्रकृति से ज्यादा अनुभवी कोई नहीं है .

 

तो दोस्तों ये थे ” Nature quotes ”  याने प्रकृति गए गुण और मेरा आपसे बस यही कहना है की आप भी आपके स्तर पर प्रकृति के लिए जो बन पड़े वो करे और अगर कुछ न भी कर पाए तो उसको कुछ हानि  ना पहुचाये . और अगर आज हम प्रकृति का ख्याल या उसे नहीं बचाएंगे . तो आनेवाले भविष्य को खतरा है .

 

और दस्तो आपके पास Nature से जुड़े  कुछ भी सुझाव हो तो आप हमे Comments  के माध्यम से बता सकते है हमे आपके Comments  का इंतजार रहेगा .

 

धन्यवाद

 

Also Read – Global Warming क्या है और इसको रोकने के उपाय क्या है

 

Also Read – जीवन में पानी का महत्व

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *