Motivational Shayari In Hindi जो आप में उत्साह भरे

Motivational Shayari In Hindi जो आप में उत्साह भरे – मित्रों आज के दौर में हमे अपने आप को उत्साहित करने के लिए कई चीजों का सहारा लेना पड़ता है और हर इंसान अपने आप को अलग – अलग तरिके से Motivate करता है उत्साहित करता है कई लोग गाने सुनते है कुछ फिल्मे देखते है. मतलब लोग ऐसे काम करते है जिससे वो अपने आप को Motivate कर सके आज कल Internet का दौर है हर इंसान की जेब में smart phone है और कई ऐसे motivational speakers  है जो Online ऐसे programs  करते है जिसको देखने से लोग उत्साहित होते है.Motivational Shayari In Hindiपर मित्रो पुराने जमाने में ऐसा नहीं होता था लोगो को अगर टेंशन आजाता था, या उनका कोई नुकसान हो जाता था. तो उनके मन में Negative  thoughts  आते थे. और उसके निदान के लिए उस समय कई तरिके अपनाते थे कुछ लोग ऐसे अनुभवी लोगो के पास जाके उनसे बात करते थे और उनकी बातो से वो प्रोत्साहित होते थे.

कुछ लोग किताबे पड़ते थे कुछ कहानिया किस्से सुनते थे और कई लोग अन्य तरह का प्रयास करते थे उस दौर में Motivational Shayari का भी उपयोग होता था खुद को Motivate करने के लिए कई लोग शेरो – शायरी के द्वारा अपने आप को अपने काम के प्रति उत्साहित करते थे.

तो दोस्तों अब में आपको इस पोस्ट में कुछ ऐसी Motivate करने वाली शायरिया बताऊंगा जो आपको बहुत ही अच्छी लगेगी और जिन्हे पढ़कर आप भी उत्साहित हो जायेगे और पुनः अपने काम को नए उत्साह के साथ करने लगेंगे.

Motivational Shayari In Hindi जो आप में उत्साह भरे “

1 – असली पहलवान की पहचान अखाड़े में नहीं जिंदगी में होती है

ताकि जब जिंदगी तुम्हे पटके तो फिर तुम खड़े हो और ऐसा दाव मारो की जिंदगी चित हो जाये.

 

2 – मंजिल यु नहीं मिलती राही को, जूनून सा दिल में जगाना पड़ता है,

पूछा चिड़िया से की घोसला कैसे बनता है, वो बोली की तिनका तिनका उठाना पड़ता है.

 

3 – गुजरी हुई जिंदगी को कभी याद ना कर, तकदीर में जो लिखा है उसकी फरियाद ना कर.

जो होगा वो होकर रहेगा, तू कल की फिकर में अपनी आज की हसीं बर्बाद ना कर.

 

4 – सुन जिंदगी मुश्किलों के सदा हल दे, थक ना सके हम फुरसत के कुछ पल दे.

दुआ है दिल से सबको सुखद आज, और एक बेहतर कल दे.

 

5 – सोच को अपनी ले जाओ उस शिखर पर, ताकि उसके आगे सितारे भी झुक जाये.

ना बनाओ अपने सफर को किसी कश्ती का मोहताज, चलो इस शान से की तूफान भी रुक जाये.

6 – राह संघर्ष की जो चलता है, वो ही संसार को बदलता है.

जिसने तारो से जुंग जीती, सुबह सूर्य बनकर वही चमकता है.

 

7 – पंख फैलाते हुए मोर बहुत देखे है, घन पे छाये घनघोर बहुत देखे है.

नाला कहता है समुन्द्र में उमड़ना सीखो, हमने बरसात के ये शोर बहुत देखे है.

 

8 – कई लोग मुझको गिराने में लगे है, सरे शाम चिराग बुझाने में लगे है.

उन से केह दो कतरा नहीं में समुन्द्र हु, डूब गए वो खुद जो डुबाने में लगे है.

 

9 – खुल कर तारीफ भी किया करो, दिल खोल कर हुस भी दिया करो.

क्यों बांध कर खुद को रखते हो, पंछी की तरह भी जिया करो.

 

10 – ये जिंदगी हसीन है इससे प्यार करो, अभी है रात तो सुबह का इंतजार करो.

वो पल भी आएगा जिसकी ख्वाहिश है आपको, रब पर रखो भरोसा वक्त पर ऐतबार करो.

11 – काम करो ऐसा की पहचान बन जाये, हर कदम ऐसा चलो की निशान बन जाये.

यह जिंदगी तो हर कोई काट लेता है, जिंदगी जिओ इस कदर की मिसाल बन जाये.

 

12 – जब टूटने लगे हौसला तो बस यह आस रखना, बिना मेहनत के हसीन तख्तो ताज नहीं होते.

ढूंढ़ लेना अँधेरे में ही मंजिल अपनी दोस्तों, क्योकि जुगनू कभी रौशनी के मोहताज नहीं होते.

 

13 – सुख – दुःख की धुप – छाव से आगे निकल के देखे, इन ख्वाहिशो के गांव से आगे निकल के देख.

तूफान क्या डुबोयेगा तेरी कश्ती को, अंधी की हवाओ से आगे निकल के देख.

 

14 – मंजिलो से अपनी डर ना जाना, रास्ते की परेशानी से टूट ना जाना.

जब भी जरूरत हो जिंदगी में किसी अपने की, हम आपके अपने है यह भूल ना जाना.

 

15 – जिंदगी में उलझे सवालों का जवाब ढूंढता हु, कर सके जो दर्द कम, वोह नशा ढूंढता हु.

वक्त से मजबूर, हालात से लाचार हु, मैं जो देदे जीने का बहाना ऐसी राह ढूंढता हु.

 

16 – हौसले की तरकश में, कोशिश का वो तीर जिन्दा रख.

हार जा चाहे जिंदगी में सब कुछ,

मगर फिर से जितने की उम्मीद जिन्दा रख.

 

17 – जिंदगी की कश्मकश में थोड़ा उलझ गए है दोस्तों, वरना हम तो उनमे से है.

जो दुश्मनो को भी अकेला महसूस नहीं होने दे.

 

18 – मत सोच की तेरा सपना क्यों पूरा नहीं होता, हिम्मत वालो का इरादा कभी अधूरा नहीं होता.

जिस इंसान के कर्म अच्छे होते है, उसके जीवन में कभी अँधेरा नहीं होता.

 

19 – परिंदो को मंजिल मिलेगी यकीनन, ये फैले हुए उनके पंख बोलते है.

वो लोग रहते है खामोश अक्सर, जमाने में जिनके हुनर बोलते है.

 

20 – निगाहो में मंजिल थी, गिरे और गिरकर सम्भलते रहे.

हवाओ ने बहुत कोशिश की, मगर चिराग अंधियो में जलते रहे.

21 – सिडिया उन्हें मुबारक हो, जिन्हे सिर्फ छत पर जाना है.

मेरी मंजिल तो आसमान है, रास्ता मुझे खुद बनाना है.

 

22 – खुदी को कर बुलंद इतना की तकदीर से पहले

खुदा बंदे से खुद पूछे बता तेरी रजा क्या है.

 

23 – तुम्हारे घर में दरवाजा है लेकिन तुम्हे खतरे का अंदाजा नहीं है.

हमे खतरे का अंदाजा है लेकिन हमारे घर में दरवाजा नहीं है.

 

24 – सूरज पर प्रतिबंध उनको, और भरोसा रातो पर,

नयन हमारे सिख रहे है, हसना झूठी बातो पर.

 

25 – जिस दिन आपने अपनी सोच बड़ी कर ली,

बड़े – बड़े लोग आपके बारे में सोचना शुरू कर देंगे.

 

कुछ अन्य Motivational Shayari”

 

26 – मुश्किल जरूर है मगर ठेरा नहीं हु मैं, मंजिल से जरा कह दो अभी पहुंचा नहीं हु मैं,

कदमो को बांध ना पायेगी मुसीबत की जंजीर, रास्तो से जरा केहदो अभी भटका नहीं हु मैं.

 

27 – सफर में मुश्किलें आये, तो हिम्मत और बढ़ती है.

कोई अगर रास्ता रोके, तो जुर्रत और बढ़ती है,

अगर बिकने पे जाओ तो घट जाते है दाम अक्सर.

ना बिकने का इरादा हो तो, कीमत और बढ़ती है.

 

28 – अँधियो को जिद है जहा बिजलिया गिराने की, मुझे भी जिद है वहा आसियाना बसाने की.

हिम्मत और हौसले बुलंद है, खड़ा हु अभी गिरा नहीं हु,

अभी जंग बाकि है और में हरा भी नहीं हु.

 

29 – साथ नहीं रहने से रिश्ते टुटा नहीं करते, वक्त की धुंद से लम्हे नहीं टुटा करते.

लोग कहते है मेरा सपना टूट गया, टूटी नींद है सपने नहीं टुटा करते.

 

30 – नजर को बदलो तो नजारे बदल जाते है, सोच को बदलो तो सितारे बदल जाते है.

कश्तिया बदलने की जरूरत नहीं, दिशा को बदलो तो किनारे खुद बी खुद बदल जाते है.

31 – “ख़्वाहियो” से नहीं गिरते है, “फूल” झोली में, कर्म की साख को हिलाना होगा.

कुछ नहीं होगा कोसने का किस्मत को, अपने हिस्से का दिया खुद ही जलाना होगा.

यदि अंधकार से लड़ने का संकल्प कोई कर लेता है, तो एक अकेला जुगनू भी सब अंधकार हर लेता है.

 

32 – हदे शहर से निकली तो गांव – गांव चली, कुछ यादे मेरे संग पाव – पाव चली.

सफर जो धुप का किया तो तजुर्बा हुवा, वो जिंदगी ही क्या जो छओ – छओ चली.

 

33 – हर मिल के पत्थर पे लिख दो ये इबारत.

मंजिल नहीं मिलती नाकाम इरादों से.

 

34 – संघर्स में आदमी अकेला होता है.

सफलता में दुनिया उसके साथ होती है, जब – जब जग किसी पर हसा है,

तब – तब उसी ने इतिहास रचा है.

 

35 – उसी दुनिया में उजाला होगा, जो मुस्कुरा रहा है उसे दर्द ने पाला होगा.

जो चल रहा है उसके पाव में छाला होगा, बिना संघर्ष के इंसान चमक नहीं सकता, जो जलेगा उसी दिए में तो उजाला होगा.

 

36 – राह संघर्ष की जो चलता है, वो ही संसार को बदलता है,

जिसने रातो से जंग जीती है, सूर्य बन कर वो ही निकलता है.

 

37 – फ़िक्र मत कर बंदे कलम कुदरत के हाथ है, लिखने वाले ने लिख दिया तकदीर तेरे साथ है,

फ़िक्र करना है क्यों फ़िक्र से होता क्या है, रख खुदा पे भरोसा देख फिर होता क्या है.

 

38 – सफर में मुश्किलें आये, तो जरूरत और बढ़ती है

कोई जब रास्ता रोके, तो हिम्मत और बढ़ती है.

 

39 – बुझी शमा भी जल सकती है, तुफानो से कश्ती भी निकल सकती है.

हो  के मायूस यूँ ना अपने इरादे बदल, तेरी किस्मत कभी भी बदल सकती है.

 

40 – मत सोच की तेरा सपना क्यों पूरा नहीं होता, हिम्मत वालो का इरादा कभी अधूरा नहीं होता.

जिस इंसान के कर्म अच्छे होते है, उसके जीवन में कभी अँधेरा नहीं होता.

41 – दुवा मांगी थी आशियाने की, चल पढ़ी अँधिया जमाने की.

मेरे गम को कोई समझ नहीं पाया, मुझे आदत थी मुस्कुराने की.

 

42 – कोशिशों के बावजूद हो जाती है कभी हार, होके निराश नहीं बैठना मन को अपने मार.

बढ़ते रहना आगे सदा हो जैसा भी मौसम, पा लेती है मंजिल चींटी भी गिर – गिर के हर बार.

 

43 – ऐसा नहीं की राह में रहमत नहीं रही, पेरो को तेरे  चलने की आदत नहीं रही,

कश्ती है तो किनारा नहीं है दूर, अगर तेरे इरादों में बुलंदी बनी रही.

 

44 – मुश्किलों से भाग जाना आसान नहीं होता, हर पहलू जिन्दगी का इंतिहान नहीं होता.

डरने वालो को मिलता नहीं कुछ जिंदगी में, लड़ने वालो के कदमो में जहा होता है.

 

45 – बुलबुल के पेरो में बाज नहीं होते, कमजोर और बुजदिलो के हटो में राज नहीं होते.

जिन्हे पद जाती है झुक कर चलने की आदत, उन सिरों पर कभी ताज नहीं होते. 

 

46 – हर पल पे तेरा ही नाम होगा, तेरे हर कदम पे दुनिया का सलाम होगा.

मुश्किलों का सामना हिम्मत से करना, देखना एक दिन वक्त भी तेरा गुलाम होगा.

 

47 – मंजिले उन्हें ही मिलती है जिनके सपनो में जान होती है,

पंखो से कुछ नहीं होता, होसलो में उड़ान होती है.

 

48 – ताश के पत्तो से महल नहीं बनता, नदी को रोकने से समंदर नहीं बनता.

बढ़ाते रहो जिन्दगी में हर पल, क्युकि एक जित से कोई सिकंदर नहीं बनता.

 

49 – जो भरा है भाव से जिसमे बहती रस धारा है.

वह ह्रदय नहीं है पत्थर है, जिसमे स्वदेश का प्यार नहीं.

 

50 – बुझने लगी आंखे तेरी, चाहे थमती हो रफ्तार, उखड़ रही हो सांसे तेरी, दिल करता है चीत्कार.

दोष विधाता को ना दे, मन में रखना तू ये आस, “रण विजय” बनता वही, जिसके पास हो “आत्मविश्वास”. 

दोस्तों यह थी आपके मन को आत्मविश्वास मोटिवेशन से भरने वाली खुछ शायरिया मित्रो यह एक केवल जरिया मात्र है अपने मन को बहलाने का इंसान का मन समय – समय पर बदलता रहता है कभी positive  thoughts  आते है तो कभी negative  thoughts  आते है, क्योकि कई बारे हमारे काम या हमारी फेमेली की वजह से हम दुखी होते है और उस वजह से हमारा मन निराश होने लगता है और हम जो काम करते रहते है उसमे हमारा सही तरिके से मन भी नहीं लगता

तो उसी के निजात पाने के लिए लोग कई तरिके अपनाते है और मित्रो मैने आपको पहले भी बताया है की इंसान कई तरिके अपने मन को बहलाने के लिए लगाता है पर सब का उद्देश्य एक ही होता है. आप भी अपने लिए याने अपने आप को Motivate करने के लिए ऐसा कोई सा तरीका अपना सकते हो जिसमे आपको मजा आये और आप उस negativity से या उस टेंशन से निकल जाये जो आपको उस वक्त घेर कर रखती है. और अगर आप के मन से बुरे संकल्प चले जाते है तो फिर आपका काम में मन भी ठीक तरिके से लगने लगता है. 

तो मित्रो यह थी post “Motivational Shayari In Hindi जो आप में उत्साह भरे ” आपको यह post  कैसी लगी pliz हमे बताये और में समझता हु, आप मेरे द्वारा बताई गयी इन जानकारियों को जरूर follow करेंगे और अपने मन में कभी Negative खयाल नहीं आने देंगे हमेशा अच्छा ही सोचेंगे. 

और आप इस post  से संबंधित अपने अनमोल विचार हमे Comments  के माध्यम से भेज सकते है.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.