जानिए क्या है रक्षाबंधन राखी का महत्व

जानिए क्या है रक्षाबंधन राखी का महत्व – दोस्तों  रक्षाबंधन  हिन्दुओं  का  एक  बहुत  बड़ा  त्यौहार  है  बल्कि  रक्षाबंधन  एक  त्यौहार  ही  नहीं   भाई – बहन  के  प्यार  और  रिश्ते  का  प्रतीक  है. और  यह  राखी  का  त्यौहार  सिर्फ  हिंदुस्तान  ही  नहीं  बल्कि  समूचे  विश्व  में  बड़े  ही  प्रेम  और  हर्ष  के  साथ  मनाया  जाता  है. तो  दोस्तों  आज  हम  इस  post  में  रक्षाबंधन  के  महत्व  के  बारे  में  details  में  देखेंगे.

जानिए क्या है रक्षाबंधन राखी का महत्व

दोस्तों  रक्षाबंधन  दुनिया  में  कई  सालो  से  मनाया  जारहा  है. या  ये  कहे  युगो  से  इसमें  एक  बहन  अपने  भाई  को  राखी  का  धागा  बांधती  है. और  उसके  बदले  मे  भाई  अपनी  बहन  को  हमेशा  उसकी  रक्षा  करने  हर  मुसीबत  से  दूर  करने  हर  सुख  –  दुःख  में  उसका  साथ  निभाने  का  वचन  देता  है. और यही  सही  मायने  में  रक्षाबंधन  का  महत्व  है. क्योकि  आप  देखो  रक्षाबंधन  त्यौहार  के  नाम  मेही  रक्षा + बंधन = रक्षाबंधन  का  अर्थ  छुपा  है. इसलिए  हर  भाई  अपनी  बहन  की  रक्षा  करने  का  वचन  देता  है. और  इसे  अपनी  जान  पर  खेल  कर  भी  निभाता  है.

जानिए क्या है रक्षाबंधन राखी का महत्व”

दोस्तों  बहुत  किस्मत  वाले  होते  है  वो  लोग  जिनकी  बहन  होती  है  बहन   की  हमे  सबसे  ज्यादा  जरूरत  पड़ती  है  जब  राखी  का  त्यौहार  आता  है  जिन  लोगो  की  बहन  होती  है  वो  उनको  राखी  बांधती  है. और  बदले  में   बहन  भी  राखी  वाले  दिन  भाई  से  जो  चाहे  वो  मांग  सकती  है. इस  दिन  बहन  का  भाई  पर    पूरा  हक  रहता  है. और  दोस्तों  मुझे  हर  साल  राखी  पर  इसी  बात  का  दुःख  रहता  है  की  मेरी  कोई  सगी  बहन  नहीं  है  जो  मुझे  राखी  बांध  सके  मेरे  लिए  रक्षाबंधन  का  त्यौहार  हमेशा  उदासी  भरा  रहता  है.

और दोस्तों आज नए जमाने में भी रक्षाबंधन का त्यौहार उसी जोश के साथ मनाया जाता है. पहले के भाई अपनी बहन से राखी बंधवाकर उसे प्यार और आशीर्वाद देते थे. उसकी रक्षा हर समय करने का वचन देते थे और उनकी हैसियत के हिसाब से उन्हें कोई तोहफा देते थे. मगर आज के नए दौर में बहन भाई से तरह – तरह के गिफ्ट लेती है, शॉपिंग करती है अपने लिए नए – नए कपड़े लेती है, और जहा मन करे वहा घूमने जाती है  और भाई भी इस दिन बहन जो मांगे उसके लिए मना नहीं कर सकता एक भाई अपनी बहन की रक्षाबंधन पर हर मांग पूरी करता है

जानिए क्या है रक्षाबंधन राखी का महत्व

और दोस्तों जैसा हमे देखने में आता है, की हमारे Bollywood  में भी रक्षाबंधन के महत्व को अलग – अलग फिल्मो में अलग – अलग रूप से राखी मनाना  दिखाया जाता है. राखी के ऊपर कई तरह के भाई – बहन के गीत बनते है, जो हमे हमेशा सुनने में बहुत ही अच्छे लगते है. और ऐसी फिल्मो की वजह से राखी का महत्व सारी दुनिया को बड़े ही अच्छे से पता चलता है. और लोग भी नए – नए तरीको से अपनी बहन के साथ राखी का त्योवहार मनाते है.

और दोस्तों क्या आप जानते है राखी के दिन बहन और भाई चाहे कभी भी वो एक दूसरे के पास पहुंच जाते है. ज्यादातर हमारे देश में यह देखा जाता है की कोई भाई कहि नौकरी करता है तो वो अपनी नौकरी से छुट्टी लेकर रक्षाबंधन का त्यौहार मनाने अपने घर जरूर आता है, और अपनी बहन और अपने पुरे परिवार के साथ मिलकर राखी का त्यौहार मनाता है, अक्सर जो लोग सेना में काम करते है कभी – कभी उनका आना मुश्किल हो जाता है

जानिए क्या है रक्षाबंधन राखी का महत्व

दोस्तों एक सैनिक का जीवन अपने परिवार से ज्यादा अपने देश के लिए महत्व रखता है और उसी कर्तव्य को निभाने के लिए एक सैनिक त्यौहार मनाने के लिए अपने घर भी नहीं आसकता तो ऐसे में बेहने अपने भाइयो के लिए राखी कोरियर के द्वारा भेजती है जो उनतक पहुंचे और वो अपनी बहन के द्वारा भेजी गयी राखी को अपने हाथ में बांध सके और सैनिक भी अपनी बहन की राखी का बेसब्री से इंतजार करते है.

 

दोस्तों अब में आपको बताता हु की क्या है रक्षाबंधन का इतिहास –

दोस्तों महाभारत के मुताबिक एक बार भगवान कृष्ण, पांडवो के साथ पतंग उड़ा रहे थे. उस समय धागे की वजह से उनकी ऊँगली कट गयी, तब द्रोपदी ने बहते खून को रोकने के लिए अपनी साड़ी का कपड़ा फाड़कर भगवान कृष्ण की ऊँगली पर बांधा था. भगवान कृष्ण द्रोपदी के इस प्रेम से बहुत खुश  हो गए और उन्होंने द्रोपदी को आजीवन सुरक्षा का वचन दिया, यह माना जाता है की चिर हरण के वक्त जब कौरव राज्यसभा में द्रोपदी की साडी उतार रहे थे, तब कृष्ण ने उस छोटे से कपड़े को इतना बड़ा बना दिया था की  कौरव उसे खींचते – खींचते थक  गए पर वो साड़ी नहीं निकली.

जानिए क्या है रक्षाबंधन राखी का महत्व

मित्रो भाई और बहन के प्रतीक रक्षाबंधन की अन्य रोचक कहानी है, मोत के देवता भगवान यम और यमुना नदी की, पोराणीक कथाओं के मुताबिक यमुना ने एक बार भगवान यम की कलाई पर धागा बांधा था. वह बहन के तोर पर भाई के प्रति अपने प्रेम का इजहार करना चाहती थी. तब भगवान यम इस बात से इतने प्रभावित हुए की यमुना की सुरक्षा का वचन देने के साथ ही उन्होंने यमुना को अमरता का वरदान भी देदिया. साथ ही उन्होंने यह भी वचन दिया की जो भाई अपनी बहन की मदद करेगा, उसे वह लम्बी आयु का वरदान देंगे.

और मित्रो यह भी माना जाता है की, भगवान गणेश के बेटे शुभ और लाभ एक बहन चाहते थे. तब भगवान गणेश ने यज्ञ देवी से संतोषी माँ का आव्हान किया. रक्षाबंधन को शुभ – लाभ और संतोषी माँ के दिव्य रिश्ते की याद में भी मनाया जाता है.

 

दोस्तों रक्षाबंधन का त्यौहार किस तरह मनाया जाता है –

बहने अपने भाइयो के लिए पसंदीदा राखीया खरीदने के लिए काफी पहले से तेयारिया करती है. कई बेहने अपने से दूर रह रहे भाइयो के लिए राखी पोस्ट के द्वारा भेजती है. और भाई भी अपनी बहनो के लिए तरह – तरह के उपहार तलाशना शुरू कर देते है. दोस्तों आप तो जानते ही है की आज Internet  का जमाना है, और Online  स्टोर से सीधे राखी भेजने का चलन भी तेजी से बढ़ रहा है.

जानिए क्या है रक्षाबंधन राखी का महत्व

दोस्तों हमारे घरो में राखी के दिन उत्साह का माहौल रहता है, पूरा परिवार एकजुट होता है. परिवार के सदस्य नए कपड़े पहनते है, और घर की महिलाये और बेहने अपनी हाथो पर मेहँदी लगवाती है. और तरह – तरह की मिठाईया बनती है. घर के देवी – देवताओ की पूजा करने के बाद बहने अपने भाई की आरती उतारती तिलक और चावल माथे पर लगाती है. उसी के साथ भाई  बहन को जिंदगी भर सुरक्षा का वचन देता है और उपहार भी देता है.

तो दोस्तों यह थी आज की पोस्ट ” जानिए क्या है रक्षाबंधन राखी का महत्व ” आपको यह पोस्ट कैसी लगी  हमे बताये और अन्त में, मै आपसे यह बात कहता हु,  की आपकी बहन चाहे आपके साथ रहती है या आपसे दूर रहती है वो जहा भी रहे आप हमेशा उसे खुश रखे  उसे कभी तकलीफ ना दे हमेशा उसका सम्मान करे और हर रिश्ते में कभी – कभी थोड़ी खटास आती है, पर हमे भाई – बहन के रिश्तो को हर खटास से दूर रखना है और मरते दम तक अपनी बहन का ध्यान रखना है उसे खुश रखना है.

 

आप इस पोस्ट से संबंधित अपने जो भी विचार या अपने भाई – बहन के रिश्ते से जुड़े कोई अनुभव हमारे साथ Share  करना चाहते है तो आप हमे Comments  के माध्यम से भेज सजते है.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.