दुनिया के हर इंसान के लिए परिवार क्यों जरुरी है

दुनिया के हर इंसान के लिए परिवार क्यों जरुरी है – दोस्तों इस संसार में कोई भी इंसान अकेला नहीं है, और कोई अकेला रहना भी नहीं चाहता सब का एक परिवार है. और हम हिन्दुस्तानियों के लिए परिवार का बहुत महत्व है, हर इंसान के लिए उसका परिवार बहुत  important  रहता है,  हमारी Family  ही हमारे सुख – देख में साथ निभाती है. हम जीवन में कितने भी सफल या असफल क्यों ना हो जाये हमारा परिवार सदा हमारा साथ निभाता है.दुनिया के हर इंसान के लिए परिवार क्यों जरुरी हैदोस्तों जब हम पैदा होते है तो हम शुरू से ही हमारे परिवार के साथ रहते है, हम लगभग 25  साल की उम्र तक हमारे परिवार पर ही  depend  रहते है, और हम जब बोलना सीखते है, या चलना सीखते है, या कुछ भी काम करना सीखते है उसमे हमारे परिवार का बहुत महत्व रहता है. हम जीवन का हर काम उनके साथ ही करना सीखते है हमारे में संस्कार भी हमारे परिवार से ही आते है.

हम देखते है कोई इंसान बहुत गुणवान और अच्छे नेचर वाला होता है सब की मदद करने वाला होता है. तो यह सब उसके परिवार के ही संस्कार होते है जो उसे बचपन में मिलते है  और अन्य एक ऐसा व्यक्ति भी होता है जो बहुत बिगड़ैल सबसे झगड़ा करने वाला बुरा बोलने वाला किसी की इज्जत ना करने वाला होता है

तो उसमे भी यह संस्कार उसके परिवार की ही देन होते है मित्रो हम जो भी सीखते है उसमे हमारे परिवार का बहुत रोल होता है. जो हमारे जीवन भर हमारे साथ रहता है.

और जब हम पढ़ते है, हम स्कूल जाते है हमारी छोटी – छोटी आवश्यकतावो में हमारी family  हमारे घरवालों का बहुत योगदान होता है. हम जब बचपन में स्कूल नहीं जाते थे. या हमे स्कूल जाने में बहुत डर लगता था तब हमारे माँ – बाप हमारे भय्या हमारे दादा – दादी ही हमे समझा भुझाकर हमे स्कूल भेजते थे.

हमे बहुत सारी चीजे खाने का लालच देते थे की तुम स्कूल जावोगे तो तुम्हे शाम  को ये खाने को मिलेगा हम तुम्हे नए कपड़े लाकर देंगे दोस्तों हम भी उन चीजों के लालच में धीरे – धीरे स्कूल जाने की आदत दाल लेते है इंसान के बचपन में उसे उसके परिवार की बहुत जरूरत होती है.

दोस्तों आज आप देखो आज आप अपने जीवन में जिस भी पोजीशन पर हो आज आप कुछ भी बन गए हो आपको वो बाते जरूर याद आती होंगी की यदी हमारे परिवार वाले हमे समझा बुझा कर स्कूल नहीं बजते तो क्या हम पड़ पाते आज हम कई अनपढ़ लोग देखते है

हम भी उनकी तरह ही अपनी जिंदगी बिताते रहते तो आज हमारे इस पोजीशन पर पहुंचने के लिए हमे हमारे परिवार का मन ही मन धन्यवाद करना चाहिए की आज में मेरी जीवन में जो कुछ भी हु उसमे मेरी फेमली का बहुत महत्व है. और आगे आने वाले जीवन में भी उनका बहुत योगदान रहेगा.

दुनिया के हर इंसान के लिए परिवार क्यों जरुरी है”

दोस्तों वास्तव में परिवार क्या है ? मेरे हिसाब से परिवार एक गुलदस्ता होता है. जैसे किसी गुलदस्ते में अलग – अलग तरह के फूल होते है, जिन में सबकी अपनी अलग – अलग खुशबु होती है, और सब का अपना – अपना महत्व होता है एक गुलदस्ते को पूरा करने में सब फूलो का बहुत योगदान होता है उसमे एक भी फूल कम हो तो वो अधूरा दिखने लगता है. इसी लिए गुलदस्ते में सब फूल एक साथ रहते है.

तो मित्रो उसी प्रकार हमारा परिवार भी एक फूलो के गुलदस्ते के सामान ही होता है उसमे हमारे घर के सारे मेंबर उन फूलो के समान होते है जो उस गुलदस्ते को बांधकर रखते है, परिवार में भी हर सदस्य का अपना – अपना महत्व होता है, एक सदस्य भी कम हो जाये तो परिवार अधूरा लगता है. दोस्तों हमारा पूरा परिवार एकता का प्रतीक होता है. जो अगर एक है तो कोई भी हमे आंख दिखने की कोशिश नहीं कर सकता परिवार एक मजबूत स्तम्भ का प्रतीक होता है.

दोस्तों हर इंसान के लिए उसका परिवार बहुत महत्व रखता है चाहे वो गरीब परिवार से आता है, चाहे अमीर चाहे किसी भी तरह का उसका परिवार हो उसके लिए वो बहुत अच्छा होता है,  उसे उसका परिवार बहुत प्रिय लगता है. मित्रो हम देखते है, आज कल नए जमाने में नई सोच का दौर है, हर इंसान अकेले रहना चाहता है, लोग यह सोचते है की मेरी शादी हो जाये और मै मेरी पत्नी को लेकर अलग अपना घर बसाऊ तो लोग यह सोच कर अपना घर तो बसा लेते है, पर जब वो अकेले रहते है, तब उनको सही मायने में उनके परिवार का महत्व पता चलता है.

हमे अपने जीवन में छोटी – छोटी चीजों के लिए भी अपने माँ – बाप अपने भाई – बहन की जरूरत पड़ती है. दोस्तों हम अपने जीवन में  20 – 25  साल अपनी Family के साथ रहते है, और जब हमारी कही job लग जाती है

तो हमे ना चाहकर भी हमारे परिवार से दूर होना पड़ता है. जब हम हमारे परिवार के साथ रहते है, तब हम बहुत चीजों पर हमारे परिवार के सदस्यों पर ही depend रहते है. हमे खाना बनाना नहीं आता है हमारे घर में हमारी माँ हमारे लिए खाना बनाती है, हमे कपड़े धोना नहीं आता हमारे घर वाले ही हमारे कपड़े धोते है

याने हमारे जीवन की हर वो छोटी – छोटी चीज जिसकी हमे दिन भर जरूरत पड़ती है, उसके लिए हम हमारे परिवार पर निर्भर रहते है. दोस्तों कुछ लोग तो बोलते है की जब हम हमारे घर से दूर चले जाते है.

तो  हमे अकेले बहुत रोना आता है, पर उस वक्त हमे कोई समझाने वाला भी नहीं होता जी करता है, की सब कुछ छोड़कर अपने घर भाग जाये पर चाहकर भी नहीं कर सकते बस वही रोते रहते है दोस्तों हमारे जीवन का वही समय होता है जब हमे हमारे परिवार की सबसे ज्यादा जरूरत होती है और हमे उनका महत्व भी तभी पता चलता है जब हम अपना जीवन अकेले जीते है.

जब हम बाहर अकेले रहते है और हम बीमार पड़ जाते है उस समय भी हमे बहुत रोना आता है, क्योकि हमे संभालने वाला हमारे पास कोई होता नहीं है, जब हम बचपन में अपने घर रहते थे. उस वक्त जब हमे सर्दी भी होती थी,  तो हमारे घर वाले हमारा  बहुत  ध्यान रखते थे. हमारी छोटी – छोटी जरूरत पूरी होती थी. और यही चीजे हमे तब याद आती है जब हम अकेले रहते है तब हम अपनी family को बहुत मिस करते है.

तो दोस्तों आप जीवन में कही भी रहे आप जिस भी पोजीशन पर चले जाये कुछ भी बन जाये आप अपने परिवार को कभी भूले नहीं उसे हमेशा याद रखे आप बहुत busy भी रहते है तो आप हप्ते में एक बार जरूर अपने परिवार से बात करे तो उससे आपको भी ख़ुशी होगी और आपके घरवालों को भी ख़ुशी होगी.

तो दोस्तों यह थी post  ” इंसान के लिए परिवार क्यों जरुरी है ” आपको कैसी लगी प्लीज़ हमे जरूर बताये और में चाहता हु, आप इस पोस्ट को पढ़कर इसे जरूर अमल में लाएंगे आप भी अपने परिवार की इज्जत करेंगे उनसे  हमेशा बात करते रहेंगे और यदी आप आज भी अपने परिवार में रहते है तो आप अपने परिवार को और भी अधिक मजबूत करे उसमे कोई दरार नहीं आने दे और एक गुलदस्ते की तरह सब मिलकर रहे.

आप इस post से संबंधित अपने कोई भी विचार हमे भेज सकते है.

Also Read –

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.