हम जीवन में किस्से जंग लड़ते है

हम जीवन में किस्से जंग लड़ते है

 

दोस्तों आज की post  ” हम जीवन में किस्से जंग लड़ते है ” से आप क्या समझते है की क्या हम आज जंग लड़ने की बात करने वाले है . हा बात तो वही है . पर जंग ऐसी की किसी दूसरे से लड़ने की नहीं ऐसी जंग हो हम खुद से ही लड़ते है या अपने काम से लड़ते है . तो हम आज कई प्रकार की जंग के बारे में देखेंगे .

 

दोस्तों पहले तो आप एक बात  समझ लीजिये की जंग दो प्रकार की होती है . एक तो वह की जो दो देशों की सेनाये आपस में लड़ती है, उनके बिच युद्ध होता है , तो एक वो जंग होती है . जो हम जीवन भर लड़ते है या यु कहु की हर इंसान लड़ता है . और वो होती है खुद से खुद की जंग .

 

और ऐसी जंग जो दो देशो के बिच चलती है. वो तो एक निश्चित समय अंतराल पर खत्म हो जाती है . पर दोस्तों जो जंग हम अपने जीवन से लड़ते है ये कभी नहीं खत्म होती . ये जंग इंसान के मरने के बाद ही खत्म होती है . तब तक चलती ही रहती है और हम इसे लड़ते रहते है .

 

और दोस्तों जीवन से जंग लड़ने का मतलब हम पैदा होने से मरने तक जो – जो परेशानिया उठाते है . जिन – जिन परिस्तिथियों का सामना करते है . वो भी तो एक प्रकार की जंग ही हुई ना इंसान पड़ लिख जाता है,  तो वो job  के लिए जंग लड़ता है . याने job  के लिए परेशान होता है . और उसे जबतक कोई काम नहीं मिले वो जंग लड़ता ही रहता है . और यह एक के साथ नहीं कइयों के साथ होता है .

 

दोस्तों इस दुनिया में हम जिस भी सफल इंसान को देखते है. आज भले ही उसने अपने जीवन में सब कुछ पा लिया है .  पर क्या उसने शुरुवात भी ऐसे ही करी थी नहीं दोस्तों आज हम जिन – जिन भी सफल लोगो को देखते है . वे भी जिंदगी में बहुत जंग लड़ते हुए यहा तक आये है . या उन्हें सफलता  प्राप्त हुई है .

 

हम जीवन में किस्से जंग लड़ते है:

 

आप जिसे भी जानते हो उसके बारे जब थोड़ा पड़ेगे तो आप देखेंगे की येतो बहुत गरीब थे. इन्होने अपने जीवन में बहुत मेहनत करी बहुत जंग लड़ी तब जाकर आज इस पोजीशन पर पहुंचे है .

 

और मेतो कहु की हमे जीवन में जंग किसी दूसरे से नहीं बल्कि खुद से ही लड़ना पड़ती है . कैसे जैसे जा हमारा जीवन केसा है . और हम हमारे जीवन में आगे क्या करना  चाहते है . हमे उसकी जंग लड़ना है . और वो भी खुद से जैसे आप कोई business  करते है और अभी उसमे कोई ज्यादा कमाई नहीं है, तो आप ऐसा ना सोचे की किसी और का business  ठप हो जाये तो मेरा फायदा हो जाये नहीं दोस्तों ऐसे कोई फायदा नहीं होने वाला है .

 

Also Read – क्या आपको पता है की आप कहा रहते है

 

Also Read – हमे life में signals क्यों देखना चाहिए

 

Also Read – अपनी प्रतिभा को बाहर कैसे निकाले

 

Also Read – हमे दुनिया मै क्या बाटना चाहिए

 

हमे अगर अपने business  को आगे बढ़ाना है तो हमे जीवन में खुद से ही जंग लड़ना पड़ेगी की हम आज कितना काम करते है , और किस प्रकार करते है और आगे जाकर कैसा काम करेंगे तो हमारा business  आगे बढ़ेगा और हम कुछ समय तक अपनी जंग जित पाएंगे . और ऐसी जंग हमे कुछ समय तक लड़ना पड़ती है . जब तक हम अपने काम में सफल ना हो जाये .

 

और बाद में फिर हमे दूसरी जंग  लड़ना पड़ती है दूसरी से मतलब हमारे जीवन में फिर कोई और समस्या  आजाती है . जैसे कोई पारिवारिक समस्या या कोई आर्थिक समस्या तो उसे निपटाने में हमे जंग लड़ना पड़ती है . और दोस्तों ऐसी कई सारी जंग हमारी Life  में आती रहती है . जिनका हम सामना करते रहते है .

 

और दोस्तों ये भी  सत्य है की हम जीवन में आने वाली हर जंग नहीं जित पाते कोई – कोई तो इतनी कठिन होती है की हम उससे हार जाते है . और टूट जाते है . और उस जंग से लड़ने के बाद हमे फिर सम्भलने में थोड़ा Time  लगता है . और हम ज्यादातर जीवन की जंग तो जीतते ही है . और जितने की वजह क्या है जितने की वजह है हमारी कड़ी मेहनत और जीवन में आगे बढ़ने की हमारी लगन जो हमे हर जंग जिताती है .

 

और मेरी भी भगवान से यही प्राथना है की दुनिया के किसी भी इंसान को खुद से जंग लड़ने की शक्ति दे उसे मजबूत बनाये और आप भगवान से ऐसा नहीं कह सकते की भगवान आप तो ऐसा  करे की हमारी life  में कोई जंग आये ही ना हमे किसी भी मुसीबत का सामना नहीं करना पड़े तो दोस्तों यह सम्भव नहीं है इस संसार में जिसने भी जन्म लिया है उसे तो जंग लड़ना ही  पड़ेगी पर यह आप पर निर्भर है की आप उस जंग को कैसे जीते .ALL THE BEST

 

तो दोस्तों कैसी लगी आपको यह post  ” हम जीवन में किस्से जंग लड़ते है ” हमे जरूर बताये और में समझता हु, की आप मेरे द्वारा बताई गयी बातो को जरूर ध्यान में रखेंगे . और अपने जीवन में आने वाली हर प्रकार की जंग का सामना करेंगे . उसका डट के सामना करेंगे .

 

और आप इस post  संबंधित अपने कोई भी सुझाव हमे comments  के माध्यम से भेज सकते है हमे आपके comments  का इंतजार रहेगा .

 

धन्यवाद

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.