हम अपने बच्चो को कैसे Motivate करे

हम अपने बच्चो को कैसे Motivate करे

 

हम अपने बच्चो को कैसे Motivate करे – दोस्तों ये हमारी आज की post  है . वो आपके लिए और आपके बच्चो के जीवन के लिए बहुत मायने रखती है . इस post  को आप पूरा और ध्यान से पड़े इसे पढ़कर आप को बहुत कुछ जानकारिया मिलेगी .

 

मुझे लगता है – आप सब लोग news  देखते हो और news  paper  भी पढ़ते है . और आज कल तो smart  phone  में हम कभी भी news  देख या पड़ सकते है . तो हमे आएदिन ये बहुत सुनने को मिलता है , की एक बच्चे ने stress  में आकर आत्महत्या कर ली और ये पुरे हिन्दुस्तान में होरहा है . और इसमें हर तरह के बच्चे होते है . मतलब गांव के भी और शहर के भी सभी stress  का शिकार हो रहे है .

 

तो दोस्तों में आज आपसे एक बात पूछना चाहता हु , की क्या आज के बच्चो में इतना stress  आगया  की उनको आत्महत्या करने की जरूरत पड़े . और बचपन में ही अपने जीवन के खत्म करे . और उनको stress  भी किस बात का केवल पढ़ने का मुझे नहीं लगता की बच्चो को इसके आलावा और किसी बात की टेंशन रहती होगी . क्योकि माँ – बाप उनसे कोई और काम तो करवाते नहीं है , पर फिर किस बात का stress  होता है .

 

तो ऐसा क्यों होरहा है . की आज के बच्चो को इतना बड़ा कदम उठाना पड़ रहा है . तो मुझे लगता हे  की हमे इस बात को समझने के लिए थोड़ा पीछे जाना पड़ेगा . मतलब जब हमारा बच्चा जन्म लेता है . तो हम उसे बड़े लाढ – प्यार  से पालते है . उसे अपनी सर आंखों पर बिठाके रखते है .

 

और जब वो बच्चा 3  साल का हो जाता है . तो हम उसे School  में भर्ती कर देते है . मतलब उसके कुछ समझ में आता भी नहीं की School  क्या होता है , और हम उसे School  में भर्ती कर देते है .

 

हम अपने बच्चो को कैसे Motivate करे

 

तो फिर भी कोई बात नहीं अगर हमने उसे School  में भर्ती  भी कर दिया तो होता क्या हे , की 3  – 4  साल तक वो School  जाता हे . और जैसे ही वो 5th Class  तक आता है.  हम लोग याने बच्चे के माँ – बाप उस  पर पढ़ाई का प्रेशर बनाने लगते हे . और उसे बोलते है की अच्छे number आना चाहिए दूसरे बच्चो से अच्छा पड़ना होगा तुम्हे यह सब बाते बोल – बोल कर हम अपने बच्चो पर प्रेशर बनाते है .

 

तो दोस्तों में आपसे एक बात पूछता हु , की हम लोग हमारे बच्चो पर इतना प्रेशर बनाते है . क्या यह सही है , हम कभी उन्हें Motivate  नहीं करते की चल तू तेरे हिसाब से पड़ जो भी नंबर आए कोई बात नहीं , पर नहीं हम कभी उन्हें Motivate नहीं करते बल्कि  हमेशा उन पर प्रेशर बनाते है . और कुछ बच्चे तो प्रेशर झेलते जाते है और कुछ आगे जाकर प्रेशर नहीं झेल पाते और इस तरह का उल्टा कदम उठा लेते है .

 

Also Read – किसी को भी बिना मांगे सलाह नादे

 

हमे अपने बच्चो पर शुरू से ही प्रेशन नहीं बनाना चाहिए , उनको उनके मन से काम करने देना चाहिए मतलब आप उनको पूरी स्वतन्त्रता भी मत दो कुछ प्रेशर भी रखो . लेकिन ऐसा प्रेशन मत बनाव की तुझे तो यह काम करना ही पड़ेगा नहीं तो Teacher  से तेरी शिकायत करुगा या हम भी तुझे सजा देंगे . तो दोस्तों कई बार होता क्या है की बच्चे सजा के डर के मारे ही गलत कदम उठा लेते है .

 

Also Read – भाषा क्या है जीवन में भाषा का क्या महत्व है

 

और कुछ गलत कदम उठा लेते है , तो मै यहा ऐसे parents को ही गलत मानता हु , जो अपने बच्चो को सही मै समझते नहीं और उनको सजा देते है . कुछ बच्चे ढीठ होते है . जिन्हे आप कुछ भी सजा देदो वो नहीं सुधरते मगर कुछ बच्चे ऐसे भी रहते है , जिनको  सजा के नाम से ही घबराहट होने लगती है . पर हमे अपने आप मै सुधार लाना होगा मतलब parents  को अपनी आदत सुधारनी होगी .

 

Also Read – हम जीवन में क्या Miss करते है

 

दोस्तों मै आपसे एक बात पूछता हु , की आप अपने बच्चों से अपने बचपन की तुलना करो की हम इनकी उम्र मे थे . तो क्या – क्या करते थे और कैसे पढ़ते – लिखते थे . और आप तो जानते ही हो की उस दौर की पढ़ाई से ज्यादा  प्रेशर आज की पढाई मै है. पहले हो हमारे ज्यादा Subject  भी नहीं होते थे .

 

Also Read – क्या आपको पता है की आप कहा रहते है

 

और ज्यादातर लोग तो सरकरी School  से ही पड़े है . और ज्यादा दूर ही क्यों  जाना मै भी सरकारी School  मै पड़ा हु , कभी Privet  School  मे नहीं गया . तो मेरा आपसे कहने का मतलब सिर्फ इतना ही है , की जब हम सरकारी School  मै पड़ कर इतने समझदार और इतने सफल हो सकते है . तो क्या आज के बच्चे modern  पढाई और Privet  School  मे पड़ कर नहीं होंगे,  होंगे बिलकुल बस हमे उनको समय देना होगा  नाकि उनपर प्रेशर बनाना है .

 

Also Read – हम Life में किसी पर Depend क्यों रहे

 

दोस्तों मेरे भी दो बच्चे है , और वो भी अभी School  मे पढ़ते है , और मै आपको रियल मे एक बात बताऊ की मैने कभी उनपर पड़ने का प्रेशर नहीं बनाया उनको कभी नंबर के लिए नहीं बोला की तुम्हे इतने नंबर लाना है . और उल्टा अगर वो मुझे बोलते है की पापा हमे हमारे दोस्त से कम नंबर आए है .

 

Also Read – success नहीं मिलने के 10 कारण

 

तो मै कहता हु , कोई बात नहीं नंबर मे क्या रखा है . बस तुम्हे सिखने से मतलब और मेरे ऐसा करने से उनको motive  करने से वो बिना बोले ही अच्छा पड़ते है. और हमेशा 100  मेसे 80 + नंबर लेके आते है .और अगर मे भी उन पर प्रेशर बनाऊ तो मुझे नहीं लगता की result  इससे और अच्छा होगा . मुझे लगता है की और खराब ही होना है .

 

इस लिए दोस्तों आप अपने बच्चो से जुड़े मतलब उन्हें समझे की तुम्हे क्या पसंद है और बिच – बिच मै उन्हें फिल्मे भी दिखाए उनको घूमने भी लेजाए जिससे उनका दिमाग भी frees  होगा . और फिर उनका पढ़ाई मै और अच्छा मन लगेगा और आप उन्हें हमेशा Motivate करे .

 

तो दोस्तों आपको यह post  ” हम अपने बच्चो को कैसे Motivate करे ” कैसी लगी pliz  हमे बताये और मै समझता हु , की आप भी अपने बच्चो से फ्रेंडली रहेंगे . और जो हमे आए दिन ये खबरे सुनने मै आती है यह नहीं सुनने को मिलेगी . मगर इसके लिए बच्चो के साथ – साथ माँ – बाप को भी समझना होगा . हमे भी अपने मै सुधार लाना होगा .

 

और दोस्तों आप हमे इस post से related अपने सुझाव हमे Comments के माध्यम से बता सकते है हमे आपके Comments का इंतजार रहेगा .

 

धन्यवाद

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *