होलिका दहन क्या है

होलिका दहन क्या है

 

दोस्तों होलिका दहन का बहुत महत्व है .आज में आपको इस पोस्ट “होलिका दहन क्या है ”  में होली का के दहन के बारे में बताऊंगा , दोस्तों  होली का धार्मिक दृष्टि से बहुत महत्व है . और हमारे देश के लगभग प्रत्येक भाग में यह त्यौहार मनाया जाता है .

 

होली उत्साह और उमंग का प्रमुख त्यौहार है जिसे लोग बड़ेहि उत्साह और उमंग से मनाते है . वर्षभर में आने वाली  त्रि – राशियों में से एक होली की रात्रि भी है , और दोस्तों जिसमे किये गए सभी धार्मिक अनुष्ठान , मंत्र , जप , पाठ , आदि सिद्ध , अक्षुण्य  हो जाते है . जिनका फल जीवन प्रियंत्र  कर्ता के प्राप्त होता है .

 

होली का दहन कैसे होती है –

दोस्तों आप कही भी रहते होंगे चाहे गांव में और शहर में हर जगह होली दहन होता है . और में आपको बताऊ की मै गांव का रहने वाला हु , और हमारे यहा गोबर के कंडो की होली जलाई जाती है .

 

और उससे होली जलाई जाती है . गावो मै घर – घर जाकर कंडे इकट्ठे किये जाते है मै जहा रहता हु वहा होली का दहन सुबहे होता है , मतलब शामको कंडे इकट्ठे किये जाते है . और उसे एक स्थान पर जहा होलिका दहन होना है . वहा जमाया जाता है . और फिर अगली सुबह लगभग 5  बजे होलीका मै आग लगाई जाती है .

 

होलिका दहन क्या है”

 

लोग सुबहे – सुबहे अपने बच्चो के साथ आकर होली का मै तापते है तापना मतलब होलिका की आग मै हाथ सेखना और उसका बहुत महत्व है . उसमे नारियल चढ़ाते है . और उसके आस – पास परिक्रमा लगाते है .ऐसा कहा जाता है की जब होली का दहन होती है. और हम उसकी परिक्रमा लगाते है तो उसका बहुत महत्व है .

 

बाधाये दूर होती है –

 

दोस्तों इस होली की अग्नि मै अपनी शरीर की सभी शारीरिक , मानसिक व्याधि , किसी प्रकार की सफलता मै रुकावट , आर्थिक कष्ट , अला – बला एवं अभी बधावो का नाश करने के लिए . एक सरल एवं प्रभावकारी उपाय है , और जिसे आसानी से किया जा सकता है . और हमारी सभी बधावो को होली की अग्नि मै भस्म करके जीवन को सुगम बना सकते है .

 

Also Read – होली क्या है हम क्यों मनाते है

 

दोस्तों होलिका दहन की लपटे बहुत शुभकारी होती है . होलिका दहन की अग्नि मै हर चिंता खाक हो जाती है . दुखो का नाश हो जाता है . और इच्छावो के पूर्ण होने का वरदान मिलता है .

 

Also Read – होली खेलना क्यों ख़राब है

 

बुराई पर अच्छाई की जित के इस पर्व मै जितना महत्व रंगो का है . उतना है होलिका दहन का हे . और यह मान्यता है की अगर  विधि विधान से होली का का दहन किया जाता है तो मुश्किलो को समाप्त होते देर नहीं लगती .

 

Also Read – जाने क्या है रंग पंचमी का महत्व

 

परिक्रमा का महत्व क्या है –

 

दोस्तों होलिका पूजा को दहन मै परिक्रमा बेहद महत्वपूर्ण मानी जाती है . कहते है परिक्रमा करते हुए . अगर हम कोई इच्छा करते है तो वह पूर्ण हो जाती है .

 

Also Read – दिवाली क्यों मनाते है

 

और परिक्रमा के आलावा होलिका दहन मै कंडो को जलाना भी होता है बेहद जरूरी . दोस्तों हम  कितने कंडे जलाये और किस आकर के कंडे जलाये ये भी आपको अपनी मनोकामना और श्रद्धा के हिसाब से तय करना होगा .

 

दोस्तों इस होलिका दहन मै परिक्रमा करना और कंडे जलाना आपके सपनो को परवान चढ़ाते है . और प्रसाद की अहमियत  भी कुछ कम नहीं है . हमारे यहा क्या होता है होलीका के अंदर ही नारियल डाला जाता है. और फिर जला हुवा नारियल निकाला जाता है और उसकी प्रसाद बाटते है , तो उसका बहुत महत्व है . दोस्तों आपके जीवन मै जो भी सपने हो आपकी जो  भी इच्छाएं हो होलिका पूजन मै सब पूर्ण होगी .

 

तो दोस्तों आपको यह post  कैसी लगी pliz  हमे बताये और मै आशा करता हु , की आप सब भी होलिका दहन मै जाये वहा शमिल होकर उसकी पूजा करे और अपने जीवन को धन्य करे . यही मेरी मनो कामना है .

 

और आप इस post से Related अपने विचार हमे Comments के माध्यम से भेज सकते है हमे आपके Comments का इंतजार रहेगा .

 

धन्यवाद

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *