महात्मा गाँधी के अनमोल विचार

महात्मा गाँधी के अनमोल विचार – दोस्तों आज मै ये post आपके लिए लाया हु . जो आपको बहुत पसंद आएगी और आप महात्मा गाँधी जी के बारे में जानेगे !
महात्मा गाँधी के अनमोल विचार

महात्मा गाँधी के अनमोल विचार

दोस्तों में आज आपके लिए राष्ट्र पिता महात्मा गाँधी के अनमोल विचार लेके आया हु , जो आपको बहुत ही पसंद आएंगे , दोस्तों में आशा करता हु , की आप इन विचारो को पढ़ेंगे और अपने जीवन में लागु करे !
जहा प्रेम हे वही जीवन हे !
                  महात्मा गाँधी
क्रोध को सहन ना करना समझदारी के दुश्मन हे !
                                                    महात्मा गाँधी
थोड़ा सा अभ्यास बहुत  सारे उपदेशो से बेहतर हे !
                                                   महात्मा गाँधी
आँख के बदले आँख पुरे विश्व को अँधा बना देगी !
                                                    महात्मा गाँधी
खुद वो बदलाव बनिये जो आप दुनिया में देखना चाहते हे !
                                                                महात्मा गाँधी
एक देश की सभ्यता उसके नागरिको के दिल में रहती हे !
                                                               महात्मा गाँधी
किसी भी देश की महानता इस बात से नापी जा सकती हे की , 
वहा जानवरो के साथ केसा व्यवहार किया जाता हे !
                                                                  महात्मा गाँधी
मेरी अनुमति के बिनाकोई भी मुझेनुकसान नहीं पहुंचासकता !
                                                                        महात्मा गाँधी
अगर संसार में बदलाव देखना चाहते हो तो खुद को बदलो !  
                                                                महात्मा गाँधी
जो जानते हे कैसेसोचना चाहिए उन्हेंकिसी टीचर कीजरूरत नहीं होती!
                                                                                      महात्मा गाँधी
दुनिया में आदमीकी जरूरतों केलिए प्रयत्न हे, पर लालच केलिए नहीं !
                                                                                       महात्मा गाँधी
अपने आप कोपाने का सहीतरीका हे कीअपने को दुसरोकी सेवा मेंलगादो !
                                                                                          महात्मा गाँधी
 
ऐसे  जियोकी कल तुममरने वाले होऔर  ऐसेसीखो जैसे तुमकभी मरोगे हीनहीं !
                                                                                             महात्मा गाँधी
 
एक कायर आदमीकभी प्रेम नहींदे सकता इसकेलिए एक बहादुरकी जरूरत हे !
                                                                                                महात्मा गाँधी
एक आदमी अपनेविचारो से हीमहान बनता हेवो जो सोचताहे वही बनजाता हे !
                                                                                                महात्मा गाँधी
किसी चीज मेंविश्वास करना परअपने जीवन मेंउसे नहीं उतारनाबेमानी हे !
                                                                                            महात्मा गाँधी
जो चीज इंसानबदल नहीं सकताहे , उसके लिएबस प्रार्थना करनीचाहिए !
                                                                                        महात्मा गाँधी
यह स्वास्थ्य ही हेजो इंसान कासच्चा धन हेना की सोना, चांदी!
                                                                          महात्मा गाँधी
तुम्हे मानवता में  विश्वास रखना चाहिए, मानवता एक समुद्रकी तरह हे
जिसमे कुछ बून्दगंदी हो सकतीहे पर समुद्रनहीं !
                                                                                     महात्मा गाँधी
शांति का कोईऔर रास्ता नहींकेवल शांति हीहे !
                                                     महात्मा गाँधी
सत्य कभी उसे छति नहीं पहुँचता जो उचित हे !
                                                  महात्मा गाँधी
प्रार्थना सुबहे की चाबी हे और शाम की रौशनी !
                                               महात्मा गाँधी
मोन सबसे शक्तिशालीभाषण हे , धीरेधीरे सारी दुनियाआपको सुनेगी !
                                                                                          महात्मा गाँधी
विश्व में सभीधर्म,   भलेही और चीजोंमें अंतर् रखतेहो , लेकिन सभीएक बात कहतेहे की दुनियामें केवल सत्यही जीवित रहताहे !
                                                                                                                                         महात्मा गाँधी
में मारने के तैयारहु , पर ऐसीवजहें भी तोहो की मेंमरने के तैयारहु !
                                                                                   महात्मा गाँधी
सात बड़े , पापकामके बिना धन, त्याग के बिनापूजा , मानवता के बिनाविज्ञान , अंतराल के बिनासुख
नैतिकता केबिना व्यवहार , चरित्रके बिना ज्ञान, सिद्धांत के बिनाराजनीती !
                                                                                             महात्मा गाँधी
सुबहे का पहलाकाम ये करेकी संकल्प करेकीमें दुनियामें किसीसे डरूंगानहीं  , मेकेवल भगवान सेडरु !
                                                                                                                                         महात्मा गाँधी
में किसी केप्रति बुरा भावना रखु ! मेंकिसी के अन्यायके समक्ष झुकूंनहीं ! में सभीकस्टो को सहसकु !
                                                                                                                          महात्मा गाँधी
में असत्य को सत्यसे जीतू ! औरअसत्य का विरोधकरता रहु !
                                                                        महात्मा गाँधी
तुम मुझे जंजीरोमें जकड़ सकतेहो , यातना देसकते हो , यहातक की तुममेरे शरीर कोनष्ट कर सकतेहो , लेकिन कभीमेरे विचारो कोकैद नहीं करसकते !
                                                 महात्मा गाँधी
विश्वास को हमेशातर्क से तोलनाचाहिए , जब विश्वासअँधा हो जाताहे तो मरजाता हे !
                                                                                                              महात्मा गाँधी
पहले वो आप  परध्यान नहीं देंगे, फिर आप परहसेंगे , फिर वोआपसे लड़ेंगे , औरतब आप जितजायेगे !
                                                                                                                               महात्मा गाँधी
दोस्तों ये महात्मा गाँधी के बारे में कुछ विचार थे , जो आपको पसंद आएंगे , दोस्तों से महात्मा गाँधीजी के बारे में तो कई चीजे हे बताने लायक उनका ज्ञान का भंडार हे, हम आपके लिए समयसमय पे उनके बारे में और भी बाते Share करेंगे !
 
तो दोस्तों आपको येमहात्मा गाँधी के अनमोल विचार post केसी लगीप्लीज़ मुझे बतायेहमे आपके कमैंट्स का इंतजार रहेगा!
धन्यवाद
विजय पटेल

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *